28 C
Indore
Monday, March 1, 2021

भारत पहुंचा कोरोना का नया स्ट्रेन, ब्रिटेन से लौटे छह लोग मिले पॉजिटिव, आइसोलेट किया

नई दिल्लीः भारत में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन से छह व्यक्ति संक्रमित मिले हैं। ये सभी ब्रिटेन वैरिएंट जीनोम की चपेट में मिले हैं। इनमें से तीन के नमूने बंगलूरू के निमहंस में, दो के हैदराबाद के सीसीएमबी और एक मरीज के पुणे के एनआईवी में जांच के लिए भेजे गए थे। इन सभी को एक कमरे में आइसोलेट कर दिया गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि ब्रिटेन से भारत आए छह लोग ब्रिटेन में मिले सार्स-कोव-2 के नए स्ट्रेन से संक्रमित मिले हैं।

25 नवंबर से 23 दिसंबर के बीच, लगभग 33,000 यात्री ब्रिटेन से विभिन्न भारतीय हवाई अड्डों पर पहुंचे। इन सभी यात्रियों का राज्यों/ केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा आरटी-पीसीआर परीक्षण और उन्हें ट्रैक किया जा रहा है। अब तक केवल 114 लोग कोविड-19 पॉजिटिव मिले हैं। यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी है।

मंत्रालय ने बताया कि राज्य सरकारों ने इन सभी लोगों को चिह्नित स्वास्थ्य सेवा केंद्रों में अलग पृथक-वास (आइसोलेशन) कक्षों में रखा है और उनके संपर्क में आए लोगों को भी पृथक-वास में रखा गया है। इन लोगों के साथ यात्रा करने वाले लोगों, उनके परिवार के सदस्यों और उनके संपर्क में आए लोगों का पता लगाया जा रहा है। अन्य नमूनों का जीनोम अनुक्रमण किया जा रहा है।

मंत्रालय ने कहा, ‘हालात पर निकटता से नजर रखी जा रही है और सतर्कता बढ़ाने, संक्रमण को रोकने, जांच बढ़ाने और नमूनों को आईएनएसएसीओजी प्रयोगशालाओं में भेजने के लिए राज्यों को नियमित सलाह दी जा रही है।’ मंत्रालय ने कहा कि यह गौर करने वाली बात है कि सबसे पहले ब्रिटेन में मिला वायरस का नया स्वरूप डेनमार्क, हॉलैंड, ऑस्ट्रेलिया, इटली, स्वीडन, फ्रांस, स्पेन, स्विट्जरलैंड, जर्मनी, कनाडा, जापान, लेबनान और सिंगापुर में भी पाया गया है।

यह वायरस के अन्य रूपों की बहुत तेजी से जगह ले रहा है, अर्थात यह तेजी से फैल रहा है। इसमें ऐसे म्यूटेशन हैं जो वायरस के हिस्से को प्रभावित करते हैं, जो महत्वपूर्ण हैं। इनमें से कुछ म्यूटेशन ऐसे हैं जो कोशकाओं को ज्यादा संक्रमित करने की क्षमता रखते है। हालांकि, अभी भी इस मामले में वैज्ञानिक पूरी तरह से निश्चित नहीं हैं। बीबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार कोविड-19 जीनोमिक्स यूके कन्सोर्टियम के प्रोफेसर निक लोमान का कहना है, इन सभी के बारे में पक्की जानकारी के लिए प्रयोगशालाओं में प्रयोग किए जाने की जरूरत है, लेकिन क्या आप इसके परिणाम के लिए हफ्तों या महीनों का इंतजार कर सकते हैं? शायद इन परिस्थितियों में तो नहीं।’

अभी तक इस बाते के कोई सबूत नहीं मिले हैं कि वायरस का नया प्रकार पहले के मुकाबले अधिक घातक या जानलेवा है। हालांकि, वैज्ञानिकों का कहना है कि निगरानी बहुत जरूरी है। अगर वायरस अधिक घातक नहीं भी है तो भी संक्रामकता बढ़ने से मामलों की संख्या बढ़ेगी और अस्पतालों पर कार्यभार भी बढ़ेगा।

इस बारे में अभी तक वैज्ञानिकों का कहना है कि वायरस पर वैक्सीन पूरी तरह असरदार रहेगी। दरअसल, वैक्सीन हमारे शरीर के इम्यून सिस्टम को इस तरह तैयार करती हैं कि वह वायरस के विभिन्न भागों पर हमला कर उसे नष्ट कर सके। इसलिए अगर स्पाइक का कोई हिस्सा म्यूटेट भी हुआ होगा तो भी वैक्सीन उस पर असर करेगी। हालांकि, प्रो. गुप्ता कहते हैं कि अगर वायरस में और म्यूटेशन हुए तो यह चिंता की बात हो जाएगी।

Related Articles

टीका लगवाने के खुद तय कर सकेंगे तारीख और समय

भोपाल: कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे चरण में प्रदेश में 186 केंद्रों पर 1 मार्च से 60 वर्ष और 45 से 59 वर्ष की आयु...

इंडियन आइडल 12 में गोविंदा का खुलासा

सिंगिंग रिऐलिटी शो 'इंडियन आइडल 12' में हर हफ्ते कोई ना कोई खास मेहमान पहुंचता है। लेटेस्‍ट एपिसोड में फिल्‍म इंडस्ट्री के खास दोस्त...

लॉकडाउन में 96 प्रतिशत लोगों की आमदनी में आई गिरावट

मुंबई: कोरोना वायरस संक्रमण के कारण पिछले साल लगाए गए लॉकडाउन के दौरान महाराष्ट्र के करीब 96 प्रतिशत लोगों की आमदनी में कमी आई...

विशेषज्ञों ने चेताया ‘बुरा ना मानो कोविड है’

नई दिल्ली :  देश में लगातार कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी जारी है। इस बीच स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने चेताया है कि अगर लोगों ने...

क्यों अचानक बढ़ी गर्मी, जानें 

नई दिल्ली :  भारतीय मौसम विभाग (आइएमडी) के अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी) ने शुक्रवार को कहा कि उत्तर-पश्चिम और पूर्वी भारत में तापमान सामान्य से...

भारत के पास साल की बेस्ट टीम बनने का मौका

अहमदाबाद : भारतीय क्रिकेट टीम ने कोरोना के बाद ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में टेस्ट सीरीज में 2-1 से शिकस्त दी। अब इंग्लैंड...

अमिताभ बच्चन की तबीयत बिगड़ी

मुंबई : बॉलीवुड  के महानायक अमिताभ बच्चन की दुनिया फैन है. उनकी एक झलक पाने के लिए फैंस बेककार रहते हैं. सोशल मीडिया पर...

कोरोना संक्रमण से मुक्त हुआ भारत का एक राज्य 

ईटानगर : कोरोना वायरस के संक्रमण की दूसरी लहर के कहर के बीच एक खुशखबरी भी मिली है। देश का पूर्वोत्तर राज्य अरुणाचल प्रदेश...

इसरो की एक और कामयाबी

श्रीहरिकोटा :  इसरो ने अंतरिक्ष में एक बार फिर से इतिहास रच दिया है। इसरो ने इस साल के अपने पहले मिशन को आज...

Stay Connected

5,576FansLike
13,774,980FollowersFollow
118,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

टीका लगवाने के खुद तय कर सकेंगे तारीख और समय

भोपाल: कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे चरण में प्रदेश में 186 केंद्रों पर 1 मार्च से 60 वर्ष और 45 से 59 वर्ष की आयु...

इंडियन आइडल 12 में गोविंदा का खुलासा

सिंगिंग रिऐलिटी शो 'इंडियन आइडल 12' में हर हफ्ते कोई ना कोई खास मेहमान पहुंचता है। लेटेस्‍ट एपिसोड में फिल्‍म इंडस्ट्री के खास दोस्त...

लॉकडाउन में 96 प्रतिशत लोगों की आमदनी में आई गिरावट

मुंबई: कोरोना वायरस संक्रमण के कारण पिछले साल लगाए गए लॉकडाउन के दौरान महाराष्ट्र के करीब 96 प्रतिशत लोगों की आमदनी में कमी आई...

विशेषज्ञों ने चेताया ‘बुरा ना मानो कोविड है’

नई दिल्ली :  देश में लगातार कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी जारी है। इस बीच स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने चेताया है कि अगर लोगों ने...

क्यों अचानक बढ़ी गर्मी, जानें 

नई दिल्ली :  भारतीय मौसम विभाग (आइएमडी) के अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी) ने शुक्रवार को कहा कि उत्तर-पश्चिम और पूर्वी भारत में तापमान सामान्य से...