25.1 C
Indore
Friday, October 7, 2022

भाजपा की चार सीटों पर हार से उठ रहे सवाल

BJP lost four seats are up questionsदमोह [ TNN ] जब कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक भाजपा की हवा तेज गति से बह रही हो। नमो के रंग में देश ही नहीं विश्व रंग गया हो,शिव के प्रति जमकर विश्वास जनता में लगातार बना हो और एैसे अच्छे वातावरण में भी भाजपा को जिले में पांच में से सिर्फ एक पर सफलता मिले तो प्रश्र उठना तो लाजमी है? आखिर एैसा कौन सा वह बांध,या रोडा है जिसने उसकी जीत की लहर या हवा को रोकने के लिये कार्य किया? इसको बनाने में किसने कार्य किया जो नमों और शिव की गति को चुनौति देता रहा? संगठन नहीं व्यक्ति पर केंद्रित राजनीति को केन्द्र बिन्दु मान कार्य करने वाले आखिर एैसे कौन से लोग हैं जिन्होने कांग्रेस मुक्त भारत नमो के सपने को चकना चूर करने में अपना योगदान देते हुये कांग्रेस युक्त दमोह को बनाने में सहयोग किया? भले ही भारतीय जनता पार्टी को प्रदेश में भारी सफलता प्राप्त हो गयी हो परन्तु दमोह जिले में मिली चार सीटों की असफलता लगातार प्रश्रों को उपजा रही है? जिले की एक नगर पालिका परिषद एवं चार नगरपंचायतों में से उसको सिर्फ दमोह नगर पालिका पर जीत प्राप्त हो सकी है। जबकि दो पर कांग्रेस एवं दो पर निर्दलीय ने अपनी जीत दर्ज कराते हुये अपना परचम लहराया। वैसे तो पूर्व से ही यही कयास लगाये जा रहे थे जैसे कि परिणाम सामने आये। परन्तु अगर सही प्रयास किये जाते तो कम से कम पूरी नहीं तो तीन सीटें तो भाजपा जीत सकती थी?

कहीं खुशी कहीं गम-
भारतीय जनता पार्टी की ओर घोषित प्रत्यासी श्रीमती मालती असाटी को मिली जीत से जहां भाजपा खेमें ने प्रसन्नता तो कांग्रेस के लिये परिणाम चौकाने वाले थे,जिसके कारण उसके खेमें सन्नाटा पसर गया।श्रीमती मालती असाटी को 32 हजार 120 मत प्राप्त हुये जबकि कांग्रेस की श्रीमती चमेली जैन को 27 हजार 864 मत मिले। यहां पर भाजपा प्रत्यासी ने 4 हजार 256 मतों से जीत दर्ज करायी। ज्ञात हो कि यहां पर जिस प्रकार से कांगे्रस ने अपने प्रत्यासी के समर्थन में हवा बनायी थी और जातिगत समीकरण बनाने का प्रयास किया था। जब अन्य समाज ने एक एक समाज एवं व्यक्ति विशेष उपज रहे आक्रोश को मतदान में मतदाताओं ने परिवर्तित कर दिया तो वह दाव उसके लिये उल्टा साबित हो गया। सूत्रों की माने तो कांग्रेस के लिये अति विश्वास यहां हार का कारण बना।

इतना सन्नाटा क्यों है भाई?-
भारतीय जनता पार्टी को मिली दमोह नगरपालिका परिषद के निर्वाचन में मिली सफलता के बाद भाजपा कार्यालय में पसरा सन्नाटा परिणाम आने की संध्या से लेकर चर्चाओं में आज भी बना हुआ ? अंधेरे में छाया कार्यालय तथा अनेक चर्चित पदाधिकारियों के चेहरों पर उभरते भाव लगातार कुछ न कुछ बयां करते होने की बात इस समय जन चर्चा में बनी हुई है? लोगों के मुंह से यह निकलना कि इतना सन्नाटा क्यों है भाई? यह बात अलग है कि पार्टी को जिले की चार सीटों पर पराजय का मुंह देखना पडा परन्तु नगर में तो उसको अच्छी सफलता प्राप्त हुई है। क्या यह बात सही नहीं है कि मालती की जीत ने जिले में भाजपा की नाक को बचाने का कार्य किया है?

क्या है मालती को ताज का राज-
नगर पालिका परिषद में श्रीमती मालती असाटी की जीत पर भले ही भाजपा अपनी पीठ थप थपाये परन्तु देखा जाये तो यह विजय उसको एैसे ही नहीं मिल गयी? एैसी विषम परिस्थितियो में जब असंतुष्टों की संख्या लगातार बढ रही हो,प्रत्यासी के लिये अचानक दावेदारों की संख्या में ईजाफा हो?भीतरघातियों की कमी न हो और सिर्फ अपने लिये कार्य करने वाले ज्यादा दिखलायी दे रहे हों? एैसे में मालती असाटी की जीत किसी चमतकार से कम नहीं कही जा सकती है। इस जीत के पीछे के कुछ प्रमुख कारण उभरकर सामने आये हैं उनमें सबसे प्रमुख वह है जिसमें नेता नहीं मतदाता पर ध्यान केंद्रित किया गया। जी हां यह वह सच्चाई है जिसमें लोकसभा चुनाव में चौकाने वाला परिणाम देश के सामने रखने में महत्वपूर्ण निभाने वाला राष्ट्रवादी संगठन ने कार्य किया। जिसने मतदाताओं का मन बना उसको बाहर निकलने और भाजपा प्रत्यासी के पक्ष में मतदान करने के लिये प्रेरित किया। दूसरा प्रमुख कारण है एक समाज एवं व्यक्ति के प्रति आक्रोश जिसने मतदाता को कांग्रेस के विरोध में वोट करने के लिये प्रेरित किया। तीसरा कारण एक जमीनी कार्यकर्ता के साथ ही अनुभवी,मिलनसार,संघर्षशील प्रत्यासी के रूप में मालती की छबि बनना। यह बात अलग है कि चर्चित नेता अपनी पीठ थप थपाने में लगे हों कि सफलता के पीछे उनका हाथ है परन्तु सच्चाई वह भी जानते हैं?

संगठन नगर तक ही सीमित रहा-
उक्त निर्वाचन की प्रक्रिया में देखा जाये तो दमोह नगर के अलावा भाजपा संगठन या तो दिखलायी नहीं दिया और अगर दिखा तो नाम मात्र के लिये। टिकिट वितरण के दौरान एक विशेष जगह से संचालन होने की बात लगातार सामने आने तथा हस्तक्षेप के चलते या तो कार्यकर्ता बागी हो गये या फिर वह भीतरघात करते रहे? बतलाया जाता है कि भाजपा जिला संगठन की इसी प्रकार की कार्यप्रणाली का परिणाम भाजपा को चुनाव में आये परिणामों में भोगना पडा? वह दमोह नगर की टिकिट वितरण को लेकर ही ज्यादा उलझा रहा। वहीं प्रचार प्रसार के मामले में भी वह अन्य क्षेत्रों में पीछे ही रहा। पार्टी कार्यालय द्वारा जारी समाचार कभी कभार ही हुये जबकि नगर को छोडकर अन्य क्षेत्रों की संख्या न्यून ही रही। छपा और दिखा रोग से पीडित चर्चित नेता सोशल मीडिया पर अपनी तस्वीर को डाल खुश होते रहे।

 

रिपोर्ट :-  डा.एल.एन.वैष्णव

Related Articles

धमकी, लिस्ट में गड़बड़ी, मल्लिकार्जुन खड़गे का खुलकर प्रचार

New Congress President: कांग्रेस की केरल इकाई के प्रमुख के सुधाकरण और पार्टी के तेलंगाना चीफ ए रेवंत रेड्डी की तरफ से दिए गए...

भारत जोड़ो यात्रा बीच में छोड़ ED के सामने पेश हुए डीके शिवकुमार, नेशनल हेराल्ड केस में पूछताछ

कांग्रेस की कर्नाटक इकाई के अध्यक्ष डी के शिवकुमार 'नेशनल हेराल्ड' से जुड़े कथित धन शोधन मामले में पूछताछ के लिए शुक्रवार को दिल्ली...

IND W vs PAK W Live Streaming: भारत बनाम पाकिस्तान की रोमांचक जंग आज

India Women vs Pakistan Women Live Streaming: विमेंस एशिया कप 2022 का आज सबसे बड़ा मुकाबला भारत और पाकिस्तान के बीच खेला जाना है।...

न्यूजीलैंड को लगा बड़ा झटका, टी20 वर्ल्ड कप से पहले फ्रैक्चर हुई इस खिलाड़ी की उंगली

टीम फिजियो थियो कपाकौलकिस ने पुष्टि की कि मिशेल को चोट से उबरने दो सप्ताह का समय लग सकता है। कोच गैरी स्टीड ने...

RRR For Oscars: ऑस्कर्स में दम दिखाएगी जूनियर एनटीआर और राम चरण की आरआरआर! मेकर्स ने किया ये काम

RRR For Oscar: अभिनेता जूनियर एनटीआर (Jr NTR), राम चरण (Ram Charan), अजय देवगन (Ajay Devgn) और बॉलीवुड एक्ट्रेस आलिया भट्ट (Alia Bhatt) स्टारर...

विकी कौशल और शाहरुख खान की थ्रोबैक फोटो वायरल, उर्वशी रौतेला ने किया ये कमेंट

बॉलीवुड अभिनेता विकी कौशल (Vicky Kaushal) हाल ही में अपने क्लीन शेव लुक की वजह से खबरों में थे और ऐसे में अब उनकी...

US में भारतीय मूल के छात्र का मर्डर, रूममेट था कातिल; हत्या की वजह भी चौंकाने वाली

अमेरिका के इंडियाना में भारतीय मूल के एक छात्र की हत्या के मामले में उसी का रूममेट गिरफ्तार हुआ है। पुलिस ने आरोपी के...

सीरिया में अमेरिका की एयर स्ट्राइक, इस्लामिक स्टेट के दो आतंकी ढेर

अमेरिका ने सीरिया में हवाई हमला करके इस्लामिक स्टेट के दो जिहादी अधिकारियों को मौत के घाट उतार दिया है। सेना के मध्य कमान...

इस सरकारी बैंक का लोन आज से हुआ महंगा, ग्राहकों पर EMI का बोझ पहले से ज्यादा होगा

सरकारी बैंक केनरा बैंक (Canara Bank) ने सभी अवधि के लिए अपने एमसीएलआर रेट (MCLR) और आरएलएलआर रेट (RLLR) में 15 बेसिस प्वाइंट का...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
128,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

धमकी, लिस्ट में गड़बड़ी, मल्लिकार्जुन खड़गे का खुलकर प्रचार

New Congress President: कांग्रेस की केरल इकाई के प्रमुख के सुधाकरण और पार्टी के तेलंगाना चीफ ए रेवंत रेड्डी की तरफ से दिए गए...

भारत जोड़ो यात्रा बीच में छोड़ ED के सामने पेश हुए डीके शिवकुमार, नेशनल हेराल्ड केस में पूछताछ

कांग्रेस की कर्नाटक इकाई के अध्यक्ष डी के शिवकुमार 'नेशनल हेराल्ड' से जुड़े कथित धन शोधन मामले में पूछताछ के लिए शुक्रवार को दिल्ली...

IND W vs PAK W Live Streaming: भारत बनाम पाकिस्तान की रोमांचक जंग आज

India Women vs Pakistan Women Live Streaming: विमेंस एशिया कप 2022 का आज सबसे बड़ा मुकाबला भारत और पाकिस्तान के बीच खेला जाना है।...

न्यूजीलैंड को लगा बड़ा झटका, टी20 वर्ल्ड कप से पहले फ्रैक्चर हुई इस खिलाड़ी की उंगली

टीम फिजियो थियो कपाकौलकिस ने पुष्टि की कि मिशेल को चोट से उबरने दो सप्ताह का समय लग सकता है। कोच गैरी स्टीड ने...

RRR For Oscars: ऑस्कर्स में दम दिखाएगी जूनियर एनटीआर और राम चरण की आरआरआर! मेकर्स ने किया ये काम

RRR For Oscar: अभिनेता जूनियर एनटीआर (Jr NTR), राम चरण (Ram Charan), अजय देवगन (Ajay Devgn) और बॉलीवुड एक्ट्रेस आलिया भट्ट (Alia Bhatt) स्टारर...