मेरी हत्या हुई तो मुख्यमंत्री शिवराज होंगे जिम्मेदार – कम्प्यूटर बाबा

कंप्यूटर बाबा ने एक्स कैटेगरी की सुरक्षा और फॉलो गार्ड बहाल करने की मांग की है। उन्होंने मुख्य सचिव को पत्र लिखकर कहा कि रेत माफियाओं के खिलाफ लगातार कार्रवाई की मुझे जान से मारने की धमकियां मिलती रही। इसके बावजूद पीछे नहीं हटा माफिया हमला करने की कोशिश करते रहे। इसलिए मुझे सुरक्षा प्रदान की गई थी।


भोपाल : कांग्रेस सरकार में नर्मदा, क्षिप्रा एवं मन्दाकिनी नदी न्यास के अध्यक्ष रहे नामदेव दास त्यागी ऊर्फ कम्प्यूटर बाबा ने शिवराज सरकार गंभीर आरोप लगाए हैं।

बाबा ने सरकार पर हत्या कराने की साजिश जैसे काफी गंभीर आरोप लगाए हैं। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल पहुंचे कंप्यूटर बाबा ने ओल्ड सिटी स्थित हनुमान मंदिर में प्रेस कॉन्फ्रेंस ली।

उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार मेरी हत्या कराना चाहती है। मुझे मारने की साजिश की गई है। दौरे के दौरान बीच रास्ते में से सीएम हाउस से फोन आया और मेरी X कैटेगरी की सुरक्षा वापस ले ली गई।

कंप्यूटर बाबा ने कहा कि रेत खनन माफिया से लड़ाई लड़ी है। मेरे साथ भी हादसा हो सकता है। लॉकडाउन में भी अवैध रेत उत्खनन जारी है। मेरी हत्या हुई तो शिवराज सरकार और मुख्यमंत्री शिवराज जिम्मेदार होंगे। सरकार चाहती है कि मैं कांग्रेस का साथ छोड़कर उनके साथ आ जाऊं।

कंप्यूटर बाबा ने एक्स कैटेगरी की सुरक्षा और फॉलो गार्ड बहाल करने की मांग की है। उन्होंने मुख्य सचिव को पत्र लिखकर कहा कि रेत माफियाओं के खिलाफ लगातार कार्रवाई की मुझे जान से मारने की धमकियां मिलती रही। इसके बावजूद पीछे नहीं हटा माफिया हमला करने की कोशिश करते रहे। इसलिए मुझे सुरक्षा प्रदान की गई थी।

एक्स कैटेगरी की सुरक्षा में तीन पीएसओ नियुक्त किए गए थे। जिसमें से एक पीएसओ स्थानीय हुआ करता था और फॉलो कार्ड भी दिया गया था। जिसके चलते में अवैध उत्खनन पर रोक लगा रहा था।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में रेत माफियाओं के हौसले बुलंद है। माफिया किसी भी हद तक जा सकते हैं उन्होंने मुख्य सचिव से मांग की है कि मेरी सुरक्षा बहाल की जाए। ताकि मैं नदियों के संरक्षण के लिए काम कर सकूं उन्होंने मुख्य सचिव के साथ गृह विभाग डीजीपी आईजी इंदौर को भी पत्र भेजा है।