कोरोना वैक्सीन ट्रायल में लापरवाही: साइकिल से वैक्सीन बॉक्स लेकर अस्पताल पहुंचा कर्मचारी

वाराणसी: वाराणसी में छह अस्पतालों में आज कोरोना वैक्सीन का ट्रायल किया जा रहा है। इन जगहों पर 25-25 लोगों पर कोरोना का टीका लगाया जा रहा है। सुबह 10 बजे कोरोना टीका लगना शुरू हो गया। लेकिन कई जगह लापरवाही देखने को भी मिली है।

उधर जिला महिला अस्पताल कबीरचौरा में भी कोरोना वैक्सीन पर ट्रायल किया जा रहा है। यहां एक कर्मचारी साइकिल से वैक्सीन बॉक्स को लेकर अस्पताल पहुंचा तो लोग चौंक गए। सीएमओ को जब इसकी जानकारी हुई तो अस्पताल प्रशासन से इसके बारे में जवाब मांगा है।

उधर, अस्पताल में ट्रॉयल की तैयारियां तो समय से पूरी हो गईं, लेकिन जिन पर ट्रायल होना है, साढ़े 10 बजे तक वहीं नहीं पहुंचे। महिला अस्पताल कबीरचौरा पर स्वास्थ्य कर्मियों का काफी देर तक इंतजार होता रहा। वेटिंग रूम में जहां उन्हें आकर बैठना है, वहां कुर्सियां तक नहीं रखी गईं।
एक साथ छह जगहों पर 25-25 लोगों पर ट्रायल किया जा रहा है। सुरक्षा के लिहाज से कोल्ड चेन सेंटर से पुलिस अभिरक्षा में केंद्रों तक टीके भेजे गए हैं। शहरी और ग्रामीण इलाकों में टीकाकरण के ट्रायल में 150 लोगों को शामिल किया गया है, हालांकि इस दौरान किसी को टीका नहीं लगेगा लेकिन इससे जुड़े रिहर्सल कराए जाएंगे।

शहरी इलाके में हेरिटेज अस्पताल लंका, जिला महिला अस्पताल कबीरचौरा और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिवपुर के साथ ही ग्रामीण इलाकों में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मिसिरपुर, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हाथी और पीएचसी पिंडरा में ट्रायल किया जा रहा है।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने सोमवार को  कैंप कार्यालय में कोविड-19 टास्क फोर्स की बैठक में कोल्ड चेन सेंटर से टीकाकरण केंद्र तक वैक्सीन लगाने की तैयारियों के बारे में जानकारी ली थी। पंडित दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल पांडेपुर में एक रीजनल वैक्सीन स्टोरेज बनाया गया है, जहां वैक्सीन को स्टोर किया जाएगा और यहां से सेंटर तक वैक्सीन कोल्ड चैन के साथ भेजी जाएगी।