28.1 C
Indore
Tuesday, August 9, 2022

भारत से अफ्रीका पहुंचा खतरनाक मच्‍छर, वैज्ञानिक टेंशन आए

अदीस अबाबा :  कोरोना वायरस महासंकट के बीच अफ्रीकी शहरों में एक नया मलेरिया मच्‍छर फैल रहा है जिससे दुनियाभर के वैज्ञानिक टेंशन में आ गए हैं। इस मलेरिया मच्‍छर का वहां रह रहे लोगों पर विनाशकारी प्रभाव नजर आ रहा है। शोधकर्ताओं ने कहा है कि भारत में पाए जाने वाले मलेरिया मच्‍छर का मुख्‍य रोगाणुवाहक या वेक्‍टर द लार्वा ऑफ एनाफिलिस स्टिफेंसी अब अफ्रीका के विभिन्‍न शहरों तक पहुंच गया है।

हाइलाइट्स:

  • कोरोना वायरस महासंकट के बीच अफ्रीकी शहरों में एक नया मलेरिया मच्‍छर फैल रहा है
  • इस मलेरिया मच्‍छर का वहां रह रहे लोगों पर विनाशकारी प्रभाव नजर आ रहा है
  • भारत में पाए जाने वाले मलेरिया मच्‍छर का मुख्‍य रोगाणुवाहक अफ्रीका तक पहुंच गया है

द नीदरलैंड राडबाउड यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर और इथोपिया अर्माउएर हानसेन शोध संस्‍थान के शोधकर्ताओं ने कहा कि वेक्‍टर एक जिंदा जीव होते हैं जो खतरनाक जीवाणुओं को इंसानों के बीच या पशुओं से इंसानों के बीच संक्रमित कर सकता है। हमलावर मच्‍छरों की यह प्रजाति कुछ साल पहले ही अफ्रीका में आई थी और अब इथियोपिया के शहरों के जलस्रोतों में पहुंच गई है। शोधकर्ताओं का कहना है कि इस बात की पूरी संभावना है कि यह इस मच्‍छर का स्‍थानीय स्‍ट्रेन है।

अफ्रीका में मलेरिया फैलाने वाले मच्‍छरों के बारे में अब तक माना जाता रहा था कि वे ग्रामीण इलाकों में ही पनपते थे लेकिन अब मलेरिया के नए स्‍ट्रेन से यह धारणा बदल गई है। इस बीच विशेषज्ञ पहले से ही इस बात को लेकर चिंतित हैं कि यह खास मच्‍छर पहले ही इथियोपिया,सूडान, दिजीबूती के शहरी इलाकों में अपनी जड़ जमा चुका है। शोधकर्ताओं ने कहा कि अब अफ्रीका के शहरी इलाकों में भी मलेरिया का खतरा बढ़ गया है।

वर्ष 2019 में 4,09,000 लोगों की मलेर‍िया से मौत
मलेरिया का इलाज संभव है और भारत में हर साल इसके लाखों मरीज आते हैं। हालांकि इससे बड़ी संख्‍या में लोगों की मौत भी हो जाती है। वर्ष 2019 में ही 4,09,000 लोगों की मौत हो गई थी। विश्‍व‍ स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की रिपोर्ट के मुताबिक अफ्रीकी इलाके में 94 फीसदी मलेरिया के केस आए और मौतें हुईं। शोधकर्ताओं ने यह पता लगाने की कोशिश की क‍ि मच्‍छरों का यह नया स्‍ट्रेन स्‍थानीय मलेरिया पैरासाइट्स के साथ मिलकर स्‍वास्‍थ्‍य के लिए घातक हो सकता है या नहीं।

संक्रामक रोगों के विशेषज्ञ तेउन बोउसेमा ने कहा, ‘हमारे आश्‍चर्य का ठिकाना नहीं रहा जब एशियाई मच्‍छर इथियोपियाई मच्‍छरों की कॉलोनी की तुलना में स्‍थानीय मलेरिया पैरासाइट के प्रति ज्‍यादा ग्रहणशील नजर आया। ऐसा लगता है कि मलेरिया के दो मुख्‍य प्रजातियों में यह मच्‍छर बहुत ज्‍यादा तेजी से फैलने वाला होगा।’ शोधकर्ताओं ने तत्‍काल तेजी से कदम उठाने के लिए कहा है।

Related Articles

खरगोन में मॉब लॉन्चिंग का वीडियो वायरल, अंडरवियर उतार के देखा युवक धर्म विशेष का तो नहीं

खरगोन: मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के औद्योगिक क्षेत्र में निमरानी में मॉब लॉन्चिंग का मामला सामने आया है। चार दिन पूर्व एक फैक्ट्री के...

संजय राउत की पत्नी पहुंचीं ED दफ्तर, आमने-सामने बैठाकर हो सकती है पूछताछ

मुंबई : पात्रा चॉल घोटाले में आरोपों का सामना कर रहे शिवसेना सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के दफ्तर...

MP के वन मंत्री का बयान: ‘किशोर कुमार अवार्ड’ के लिए फिल्मी सितारों को आना होगा खंडवा, मुंबई नहीं पहुंचाएगी शिवराज सरकार

खंडवा: मध्यप्रदेश के खंडवा में वन मंत्री ने प्रदेश सरकार द्वारा दिए जानेवाले राष्ट्रीय किशोर कुमार अलंकरण सम्मान को लेकर बड़ा बयान दिया है।...

खंडवा के गौरव दिवस के आयोजन में बजा “लड़की आंख मारे” हिन्दू संगठन और ABVP ने जताया विरोध, महिला अधिकारियों पर कार्यवाही की मांग

खंडवा : मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार निर्णय लिया है कि वह हर शहर का गौरव दिवस बनाएगी। 4 अगस्त को किशोर कुमार के जन्मदिन...

खंडवा के दंपत्ति ने खरगोन से डेढ़ साल के मासूम का किया अपहरण, पुलिस ने दबोचा

खरगोन : मध्यप्रदेश में खरगोन के निजी शारदा हॉस्पिटल परिसर से दिनदहाड़े डेढ़ साल के मासूम की घटना सामने आई हैं। गनीमत रही समय...

MP: खालिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, अवैध हथियारों की कर रहा था तस्करी

पुलिस अधीक्षक राहुल कुमार लोढ़ा ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी खालिस्थान मूमेंट से कनेक्टेट है इस तरह का इनपुट हमें जनवरी में मिला...

साध्वी ऋतंभरा के आश्रम स्टाफ पर 3 माह बाद आदिवासी बच्चियों की मौत के मामले में FIR

खंडवा - मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में ओम्कारेश्वर स्थित साध्वी ऋतंभरा के आश्रम स्टाफ के खिलाफ थाना मांधाता में मामला दर्ज किया है।...

नूपुर शर्मा के पक्ष में की थी पोस्ट, खण्डवा के युवक को पाकिस्तान के मोबाइल नंबर से मिली जान से मरने की धमकी

खंडवा : मध्यप्रदेश के खंडवा में नूपुर शर्मा के पक्ष में सोशल मिडिया पर पोस्ट डालने को लेकर पाकिस्तान से धमकी मिली हैं। राजस्थान...

मध्य प्रदेश में चुनाव कराना ही बंद कर देना चाहिए – पूर्व सीएम

राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने कहा निर्वाचन आयोग के असहायपन पर दया आती है। एमपी में चुनाव कराना ही बंद कर देना चाहिए। कलेक्टर...

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
126,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

खरगोन में मॉब लॉन्चिंग का वीडियो वायरल, अंडरवियर उतार के देखा युवक धर्म विशेष का तो नहीं

खरगोन: मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के औद्योगिक क्षेत्र में निमरानी में मॉब लॉन्चिंग का मामला सामने आया है। चार दिन पूर्व एक फैक्ट्री के...

संजय राउत की पत्नी पहुंचीं ED दफ्तर, आमने-सामने बैठाकर हो सकती है पूछताछ

मुंबई : पात्रा चॉल घोटाले में आरोपों का सामना कर रहे शिवसेना सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के दफ्तर...

MP के वन मंत्री का बयान: ‘किशोर कुमार अवार्ड’ के लिए फिल्मी सितारों को आना होगा खंडवा, मुंबई नहीं पहुंचाएगी शिवराज सरकार

खंडवा: मध्यप्रदेश के खंडवा में वन मंत्री ने प्रदेश सरकार द्वारा दिए जानेवाले राष्ट्रीय किशोर कुमार अलंकरण सम्मान को लेकर बड़ा बयान दिया है।...

खंडवा के गौरव दिवस के आयोजन में बजा “लड़की आंख मारे” हिन्दू संगठन और ABVP ने जताया विरोध, महिला अधिकारियों पर कार्यवाही की मांग

खंडवा : मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार निर्णय लिया है कि वह हर शहर का गौरव दिवस बनाएगी। 4 अगस्त को किशोर कुमार के जन्मदिन...

खंडवा के दंपत्ति ने खरगोन से डेढ़ साल के मासूम का किया अपहरण, पुलिस ने दबोचा

खरगोन : मध्यप्रदेश में खरगोन के निजी शारदा हॉस्पिटल परिसर से दिनदहाड़े डेढ़ साल के मासूम की घटना सामने आई हैं। गनीमत रही समय...