भारत ने लगाई चीन-पाकिस्तान को फटकार, कहा यह हमारा आंतरिक मामला

नई दिल्ली:विदेश मंत्रालय ने चीन और पाकिस्तान की तरफ से जम्मू कश्मीर पर आए ज्वॉइन्ट स्टेटमेंट को पूरी तरह से खारिज कर दिया है। चीन के विदेश मंत्री वांग वाई मंगलवार को पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में थे और यहां पर उन्होंने पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से मुलाकात की थी। वाई ने अपने इस दौरे पर साफ कर दिया था कि कश्मीर मसले पर उनका देश इस्लामाबाद के साथ है। विदेश मंत्रालय ने कश्मीर को भारत का आतंरिक मसला करार दिया है।

मंगलवार को विदेश मंत्रालय की ओर से जो बयान जारी किया गया है उसमें कहा गया है कि जम्मू कश्मीर, भारत का एक आतंरिक हिस्सा है। ऐसे में भारत, चीन और पाकिस्तान की तरफ से जारी ज्वॉइन्ट स्टेटमेंट में कश्मीर के जिक्र को खारिज करते हैं। विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि भारत ने लगातार चीन और पाकिस्तान को लेकर सीपीईसी प्रोजेक्ट्स को लेकर चिंता जताई है। भारत ने साफ कर दिया है कि सन् 1947 से पाकिस्तान ने इस पर गैरकानूनी तरीके से कब्जा कर रखा है। चीन के विदेश मंत्री वांग वाई ने सोमवार को इस बात का प्रण लिया है कि वह उनका देश हमेशा पाकिस्तान की मदद करता रहेगा। वांग वाई के मुताबिक चीन और पाकिस्तान दोनों ‘ऑल वेदर’ साझीदार हैं।

चीन ने इसके साथ ही कश्मीर मसले पर पाक को अपना समर्थन दिया है। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की तरफ से इस बात की जानकारी दी गई है। पाक और भारत के बीच पांच अगस्त से ही तनाव की स्थिति है। चीन के विदेश मंत्री वांग वाई ने पाकिस्तान के आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा से भी मुलाकात की थी।चीन के विदेश मंत्री ने कहा, ‘क्षेत्र की स्थितियां कैसे बदलती हैं, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, चीन हमेशा पाकिस्तान की तरफ रहेगा और संप्रभुता, सम्मान और क्षेत्रीय अखंडता की सुरक्षा में उसकी मदद करता रहेगा।’ वांग ने कहा है कि पाकिस्तान, चीन का एक रणनीतिक साझीदार है और उसके साथ संबंध किसी चट्टान की तरह मजबूत हैं।