ज्योतिरादित्य सिंधिया का ऑडियो क्लिप, टिकट के लिए 50 लाख की बात !

madhya pradesh की राजनीति में ऑडियो क्लिप की राजनीति शुरू हो गई है। सीएम शिवराज के बाद बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया का एक ऑडियो वायरल हो रहा है। वायरल ऑडियो में टिकट के लिए 50 लाख रुपये की लेन-देन की बात हो रही है। वायरल ऑडियो के बारे में दावा किया जा रहा है कि यह विधानसभा चुनाव के वक्त का है तेज़ न्यूज़ डॉट कॉम इस वायरल ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है।

नवभारत टाइम्स के अनुसार कथित रूप से वायरल ऑडियो में अनिता जैन नाम की महिला को टिकट देने की बात थी। लेकिन अशोकनगर से उसे टिकट नहीं मिल पाया। महिला इस ऑडियो में किसी अग्रवाल नाम के शख्स को 50 लाख रुपये देने की बात कर रही है। ऑडियो की शुरुआत में अनिता पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया को प्रणाम करती है। उसके बाद उधर से सिंधिया कहते हैं कि सॉरी अनिता इस बार मैं कुछ नहीं करवा पाया।

कथित रूप से वायरल ऑडियो में अनिता जैन नाम की महिला को टिकट देने की बात थी। लेकिन अशोकनगर से उसे टिकट नहीं मिल पाया। महिला इस ऑडियो में किसी अग्रवाल नाम के शख्स को 50 लाख रुपये देने की बात कर रही है। ऑडियो की शुरुआत में अनिता पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया को प्रणाम करती है। उसके बाद उधर से सिंधिया कहते हैं कि सॉरी अनिता इस बार मैं कुछ नहीं करवा पाया।

टिकट की दावेदार अनिता कहती है कि महाराज सभी समाज के लोग मेरे पक्ष में हैं। ऐसा पहली बार हो रहा है कि अशोकनगर सीट कांग्रेस के पक्ष में जा रही है। मैंने पूरी तैयारी कर ली है। वहीं, अशोकनगर सीट से दूसरे दावेदार के बारे में महिला बुराई कर रही है। अनिता बोल रही है कि वह जीतेगा नहीं महाराज, अशोकनगर में उसका काफी विरोध है। टिकट के लिए अनिता वायरल ऑडियो में रोते हुए अपनी बात रख रही है।

वहीं, अनिता को ज्योतिरादित्य सिंधिया आश्वासन देते हैं कि तुम चिंता नहीं करो। मुझे मालूम है, हमारी सरकार बनेगी। मैं तुम्हारी पूरी रखवाली करूंगा। पूरा न्याय और सम्मान दिलवाऊंगा। इसके बात अनिता किसी जज्जी नाम के शख्स का आरोप लेकर कहती है कि वह हर चुनाव में हत्या करता है। महाराज बोलते हैं कि मुझे मालूम है।

बातचीत के दौरान सिंधिया बोलते हैं कि अनिता इस बार क्या हुआ है कि जो लोग 5 हजार से कम से हारे हैं, उन्हें राहुल गांधी जी मध्यप्रदेश में सभी को टिकट दिए हैं। इसलिए मैंने देर से अटका रखा था। लेकिन राहुल जी का निर्देश है तो क्या करें।

वहीं, वायरल ऑडियो को लेकर प्रदेश में सियासत शुरू हो गई है। सिंधिया समर्थकों ने इसे फर्जी बताया है। वहीं, अनिता जैन ने ऑडियो के बारे में एक अखबार से बातचीत करते हुए कहा है कि मेरा नाम सर्वे में था। टिकट कटने के बाद मेरे पास महाराज का फोन आया। बातचीत के दौरान वहां कई लोग मौजूद थे। मैं रोने लगी और फोन पटककर चली गई। वहां मौजूद कुछ लोगों ने फोन से ऑडियो क्लिप निकाल लिए और पीसीसी में भेज दिया। पैसे मुझे वापस मिल गए थे।

एमपी यूथ कांग्रेस ने लिखा है कि यह श्रीअंत का चाल, चरित्र और चेहरा है। वहीं, तेज़ न्यूज़ डॉट कॉम इस वायरल ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है।