कमलेश तिवारी हत्याकांड में गुजरात ATS ने 6 संदिग्धों को हिरासत में लिया

लखनऊ : हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी हत्याकांड में बवाल बढ़ता जा रहा है। वहीं, गुजरात एटीएस ने मामले में सूरत से 6 संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया है। हालांकि कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले में पत्नी ने कमलेश के सिर पर 51 लाख का इनाम रखने वाले बिजनौर के मौलाना अनवरुल हक समेत दो अन्य लोगों के खिलाफ तहरीर दी थी। जिसके बाद पुलिस ने हत्या, आपराधित साजिश की धाराओं में एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस मामले में एडीजी बरेली जोन अविनाश चंद्र ने मीडिया को जानकारी देते बताया कि मौलाना अनवारुल हक से पूछताछ की जा रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गुजरात एटीएस ने कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले में 6 संदिग्ध लोगों को सूरत से हिरासत में लिया है। हिरासत में लिए गए 6 में से एक की भूमिका मर्डर में संदिग्ध बताई जा रही है। आपको बता दें कि इन सभी को गुजरात एटीएस ने हिरासत में लिया है और यह टीम यूपी पुलिस और एसआईटी से लगातार संपर्क में है।

कमलेश तिवारी की हत्या के बाद उनके रूम से सूरत घारी मिठाई का डब्बा मिला था। घारी सूरत की फेमस मिठाई है। इस डब्बे में आरोपी हथियार लाए थे। बताया जा रहा है कि सूरत की धरती फुड एंड स्वीट दुकान से घारी मिठाई खरीदी गई थी। इस जानकारी के सामने आने के बाद सूरत पुलिस की टीम ने दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे को चेक भी किया था।

इससे पहले खबर आई थी कि आईएसआईएस ने कमलेश को मारने की धमकी दी थी। 2017 में गुजरात में पकडे गये आतंकियों ने एटीएस को ये जानकारी दी थी। एटीएस ने इसकी रिपोर्ट बनाकर सरकार को भी सोंपी थी। वहीं, कमलेश ने हाल ही में खुद की सुरक्षा को लेकर ट्वीट किया था। उन्होंने ट्वीट कर सुरक्षा ना दिए जाने पर सवाल उठाए थे। कमलेश ने अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह व सीएम योगी को टैग किया था।

चुनावी दौरे से लौटने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कमलेश तिवारी हत्याकांड को लेकर सख्त तेवर दिखाया है। उन्होंने इस मामले में अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी और डीजीपी ओपी सिंह से तत्काल विस्तृत रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने बताया, “ऐसा लग रहा है कि आपसी रंजिश के तहत घटना को अंजाम दिया गया है। मामले की छानबीन में 10 टीमें लगाई गई हैं। मौके पर एक पिस्तौल बरामद हुई है, उसकी जांच की जा रही है। इलाके के आसपास लगे सभी सीसी कैमरे खंगाले जा रहे हैं।”

इससे पहले हिंदू महासभा के पूर्व अध्यक्ष कमलेश तिवारी हत्याकांड के संदिग्धों की एक और सीसीटीवी फुटेज सामने आ गई है। इस फुटेज में दो व्यक्तियों के साथ एक महिला भी दिखाई दे रही है। इसमें से एक व्यक्ति के हाथ में एक थैला दिखाई दे रहा है। आशंका जताई जा रही है कि इसी में संदिग्ध हथियार लेकर आए थे जिससे कमलेश की हत्या को अंजाम दिया गया।