16.1 C
Indore
Tuesday, January 18, 2022

लखनऊ नगर निगम चुनाव में उतरा कल का मज़दूर

लखनऊ : बचपन बाल मज़दूरी में गुजरा तो पूरी जवानी भी मजबूरियों के विकट घेरे के हवाले रही. जीवन का बड़ा हिस्सा बड़े लोगों को और बड़ा बनाने की सेवा-टहल में या कहें कि किसी तरह ज़िंदा रहने की जुगत में गुजरा. गरीब बस्तियों के अधिकतर परिवारों की तरह कई सालों से उनके परिवार के लिए भी बरसात का मतलब मुसीबतों से मुठभेड़ करना रहा है. यह सालाना आफत है कि घरों में सीवर का पानी घुस आता है और हफ़्तों बाहर निकलने का नाम नहीं लेता. सड़ांध और रोग-बीमारियों का बसेरा हो जाता है, फोड़े-फुंसियों से बच्चे-बूढ़े हलकान हो जाते हैं. इलाज का बोझ अलग से पैबस्त हो जाता है. गोहार लगती है लेकिन नगर निगम उफ़ भी नहीं करता.

कमाल यह कि आज उसी मामूली आदमी ने लखनऊ नगर निगम के चुनाव में पार्षदी के लिए ताल ठोंकी है. नाम है वीरेन्द्र कुमार गुप्ता. वह इंदिरा नगर के मैथिलीशरण गुप्त वार्ड में रहते हैं. जर्जर हो चली पान की दूकान से कहने भर को उनका घर चलता है.

जैसा कि आम आदमी के साथ होता है- आर्थिक मजबूरियों ने उनके जीवन को भी ऐसा चकरघिन्नी बना रखा था कि उनके लिए बेहतरी का सपना देख पाना भी जैसे सपना हो गया था. आंखें देर से खुलीं और जब खुलीं तो बहुत दूर तलक देखने लगीं. इन सवालों से जूझने लगीं कि आख़िर गरीब गरीब क्यों होता है, कि गरीब के लिए हाड़तोड़ मेहनत के बाद भी दो जून की रोटी का इंतजाम इतना भारी क्यों हो जाता है, कि मेहनतकश गरीब क्यों लुटता-पिटता रहता है, कि उसकी दुख-तकलीफ़ें अनसुनी क्यों रहती हैं, कि उसके लिए सुनवाई के दरवाजे बंद के बंद क्यों बने रहते हैं…

समझदारी और हिम्मत ने पंख फैलाए. वीरेन्द्र कुमार गुप्ता ने हालात से समझौता करना छोड़ दिया, समझा कि अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ सकता. पुलिसवाले ने आइसक्रीम बेचनेवाले से मुफ़्त का माल खाना चाहा और मना करने पर उसे पीट दिया तो वीरेन्द्र कुमार गुप्ता पुलिसवाले से उलझ पड़े. दबाव बना तो पुलिसवाले को माफी मांगनी पडी. तकरोही के दलित युवक की पुलिस हिरासत में पिटाई से मौत हुई और पुलिस ने कहानी गढ़ कर चार मुसमानों को फंसा दिया तो वीरेन्द्र कुमार गुप्ता इस अत्याचार के ख़िलाफ़ खड़े हो गए. सरकारी स्कूल में बच्चों की पिटाई, पढ़ाई में ढिलाई, मिडडे मील में गड़बड़ी और स्कूल में साफ़-सफाई के सवाल को आम दिलचस्पी का विषय बनाने का बड़ा काम किया.

मुसीबतों के मारों को जोड़ा और बिना ढोल-नगाड़ा बजाये गरीब-गुरबों के हित-अधिकारों का मोर्चा खोला. उसे जीने का अधिकार अभियान नाम दिया और उसके तहत मासिक चौपाल की शुरूआत की. यह बदलाव की करवट थी. आम आदमी पार्टी ने उनके इसी जज्बे और उनकी लड़ाकू पहचान को सराहा और उन्हें अपना उम्मीदवार बनाया.

वीरेन्द्र कुमार गुप्ता सचमुच आम आदमी हैं. उनके बच्चे सरकारी स्कूल में पढ़ते हैं, थोड़ी मजदूरी भी कर लेते हैं. पत्नी निजी स्कूल में आयागिरी का काम करती हैं.

उनके चुनाव प्रचार में उन्हीं जैसे आम लोगों का जुटान है. इसमें घरों में काम करनेवाली महिलाएं, दिहाड़ी मज़दूर और शिक्षित बेरोजगारों के अलावा सामाजिक कार्यकर्ता भी शामिल हैं. और हां, 110 वार्डों में वीरेन्द्र कुमार गुप्ता अकेले ऐसे उम्मीदवार हैं जिनका परचा रंगीन नहीं, काला-सफ़ेद है. वह कहते हैं कि हमें अपनी बात पर भरोसा है, तीमझाम पर नहीं.

Related Articles

पुलिस महिलाओं और बच्चों से कैसे करें व्यवहार, परीक्षा आयोजित

खंडवा : पुलिस में भर्ती होने के लिए परीक्षा पास करते तो आप ने देखा होगा लेकिन पुलिस रहते हुए में अपने कर्तयव को...

नरेश टिकैत से मिलने पहुंचे केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में केंद्रीय पशुपालन मंत्री डॉक्टर संजीव बालियान ने सिसौली पहुंचकर भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत का हाल जाना।...

Goa Election 2022: ,केजरीवाल बोले- पीएम मोदी ने खुद हमें ईमानदारी का सर्टिफिकेट दिया है, गोवा में भी मुफ्त योजनाओं का किया वादा

नई दिल्लीः गोवा के लिए आम आदमी पार्टी ने बड़ा चुनावी वादा किया है। चुनाव प्रचार करने के लिए गोवा पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री...

अमेरिका: आतंकी की गिरफ्त से छुड़ाए गए सभी अमेरिकी नागरिक, 10 घंटे तक चला ऑपरेशन

टेक्सास : अमेरिका के टेक्सास में अमेरिकी नागरिकों को बंधक बनाए जाने के मामले में सुरक्षाबलों को बड़ी कामियाबी मिली है। राज्यपाल ग्रेस एबॉट...

Haryana: मंत्री विज ने दी जानकारी, बिना वैक्सीन लगवाए 15 से 18 वर्ष के बच्चों को स्कूल में नहीं मिलेगी एंट्री

हरियाणा : हरियाणा में 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के लिए बिना कोरोना रोधी टीका लगवाए स्कूलों में प्रवेश करने की...

Corona Effect: मध्य प्रदेश में 12 वीं तक के स्कूल 31 जनवरी तक बंद

भोपाल: कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए मध्य प्रदेश में अब पहली से बारहवीं कक्षा तक के सरकारी-निजी सीबीएससी-आइएससी सहित सभी स्कूलों...

निजी अस्पताल के बायोगैस प्लांट से मिले मानव खोपड़ियां व नरकंकाल, आई निठारी कांड याद

मुंबई : महाराष्ट्र के वर्धा जिले से निठारी कांड जैसा मामला सामने आया है। यहां के एक प्राइवेट अस्पताल से मानव कंकाल और खोपड़ियां...

शिवराज सरकार झूठ परोसने में लगी है,16 साल से दे रहे झूठे आश्वासन – पूर्व मुख्यमंत्री

कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश में पंजीकृत बेरोजगार युवाओं का आंकड़ा 34 लाख के करीब पहुंच चुका है। अभी हाल ही में हमने प्रदेश...

खंडवा : GST टीम की छापेमार कार्रवाई, जीएसटी चोरी की आशंका

जीएसटी की जांच के लिए कमिश्नर जीएसटी इंदौर द्वारा संभागीय टीम को 2 दिन की जांच के अधिकार पावर दिए गए हैं इसके तहत...

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
124,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

पुलिस महिलाओं और बच्चों से कैसे करें व्यवहार, परीक्षा आयोजित

खंडवा : पुलिस में भर्ती होने के लिए परीक्षा पास करते तो आप ने देखा होगा लेकिन पुलिस रहते हुए में अपने कर्तयव को...

नरेश टिकैत से मिलने पहुंचे केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में केंद्रीय पशुपालन मंत्री डॉक्टर संजीव बालियान ने सिसौली पहुंचकर भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत का हाल जाना।...

Goa Election 2022: ,केजरीवाल बोले- पीएम मोदी ने खुद हमें ईमानदारी का सर्टिफिकेट दिया है, गोवा में भी मुफ्त योजनाओं का किया वादा

नई दिल्लीः गोवा के लिए आम आदमी पार्टी ने बड़ा चुनावी वादा किया है। चुनाव प्रचार करने के लिए गोवा पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री...

अमेरिका: आतंकी की गिरफ्त से छुड़ाए गए सभी अमेरिकी नागरिक, 10 घंटे तक चला ऑपरेशन

टेक्सास : अमेरिका के टेक्सास में अमेरिकी नागरिकों को बंधक बनाए जाने के मामले में सुरक्षाबलों को बड़ी कामियाबी मिली है। राज्यपाल ग्रेस एबॉट...

Haryana: मंत्री विज ने दी जानकारी, बिना वैक्सीन लगवाए 15 से 18 वर्ष के बच्चों को स्कूल में नहीं मिलेगी एंट्री

हरियाणा : हरियाणा में 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के लिए बिना कोरोना रोधी टीका लगवाए स्कूलों में प्रवेश करने की...