मोदी सरकार का बड़ा फैसला – अगले एक साल तक नहीं शुरू होगी कोई भी नई सरकारी योजना

आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत घोषित 20 लाख करोड़ का पैकेज भारत के हर नागरिक चाहे वो किसान हो, छोटा उद्योमी हो या किसी स्टार्टअप से जुड़ा युवा हो, उसके समक्ष नए अवसरों के युग की शुरुआत करेगा।

नई दिल्ली : कोरोना के इस संकट में सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए अगले एक साल तक नई सरकारी स्कीम नहीं लाने का फैसला किया है।

वित्त मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कोरोना की वजह से जारी आर्थिक संकट में खर्चों की कटौती के तहत यह फैसला लिया गया है।

वित्त मंत्रालय के मुताबिक, सभी मंत्रालयों को नई स्कीम के प्रस्ताव को रोकने के लिए कहा गया है। हालांकि, आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत की गई घोषणाओं के लिए खर्च जारी रहेगा।

देश का आत्मनिर्भर बनाने के लिए केंद्र सरकार ने आर्थिक सुधारों के साथ-साथ कुल 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज का ऐलान किया है।

इस पर पीएम मोदी की ओर से लिख पत्र में कहा गया है कि भारत कोरोना महामारी से जूझ रहे विश्व के सामने इकोनॉमी रिवाइवल का एक उदाहरण पेश करेगा।

आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत घोषित 20 लाख करोड़ का पैकेज भारत के हर नागरिक चाहे वो किसान हो, छोटा उद्योमी हो या किसी स्टार्टअप से जुड़ा युवा हो, उसके समक्ष नए अवसरों के युग की शुरुआत करेगा।

पत्र में पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया भर में इस मुद्दे पर व्यापक चर्चा हो रही है कि इस महामारी के चपेट से तमाम देशों की अर्थव्यवस्थाएं कैसे उबरेगी। कोरोना के बाद अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाना सबसे बड़ी चुनौती बन गई है।