13.2 C
Indore
Tuesday, January 18, 2022

मध्य प्रदेश: गनमैन ने फेल किया बीजेपी का कथित ‘ऑपरेशन लोटस’, बच गई “कमल” सरकार !

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मगंलवार रात तक सबकुछ ‘योजनानुसार’ चल रहा था लेकिन एक विधायक के गनमैन की गलती के कारण बीजेपी का ये कथित ‘ऑपरेशन लोटस’ फेल हो गया। एक विधायक के गनमैन ने दिल्ली रवाना होते समय एक फोन किया था और इसी फोन ने दिल्ली में विधायकों के जमा होने की खबर लीक हो गई।

भोपाल: मंगलवार आधी रात को मध्य प्रदेश का राजनीतिक पारा चढ़ने लगा था जब कांग्रेस ने 10 विधायकों के बीजेपी द्वारा बंधक बनाए जाने का सनसनीखेज आरोप लगाया था। कांग्रेस का आरोप था कि कर्नाटक के बाद मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी ‘ऑपरेशन कमल’ को अंजाम देने की कोशिश में जुटी हुई थी। बुधवार पूरे दिन गुरुग्राम, बेंगलुरु और भोपाल में सियासी हलचल दिखाई दी। वहीं, कांग्रेस के आरोपों को भाजपा ने खारिज किया लेकिन सत्ताधारी दल का कहना था कि इस साजिश के पीछे पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान हैं। इस बीच कांग्रेस का दावा है कि उनकी सरकार पर किसी तरह का खतरा नहीं है और सारे विधायक उनके संपर्क में हैं।

कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह और मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ ने कहा कि उनकी सरकार पर कोई संकट नहीं है और सब कुछ पूरी तरह नियंत्रण में है। दिग्विजय सिंह ने कहा था कि भाजपा कांग्रेस सरकार को गिराने की साजिश रच रही है। कांग्रेस ने दावा किया कि 6 विधायक भोपाल लौट आए हैं। कमलनाथ सरकार में मंत्री जीतू पटवारी, जयवर्धन सिंह और तरुण भनोत सहित पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का एक दल बुधवार दोपहर 6 विधायकों- ऐदल सिंह कंसाना, कमलेश जाटव, रणवीर जाटव, बीएसपी से निलंबित विधायक रमाबाई, संजीव कुशवाहा और सपा के राजेश शुक्ला ‘बबलू’ के साथ भोपाल लौटा।

वहीं, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि चार विधायक अभी भी बेंगलुरु में हैं। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि चार विधायकों बिसाहूलाल सिंह, रधुराज कंसाना, हरदीप डांग के अलावा निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह को बेंगलुरु ले जाया गया है। सूत्रों का कहना है कि चारों विधायकों को व्हाइटफील्ड रिजॉर्ट में रखा गया है। हालांकि, सत्ताधारी दल की तरफ से बार-बार दावा किया जा रहा है कि चारों विधायक उनके खेमे में लौट आएंगे और उनकी सरकार पर किसी तरह का कोई खतरा नहीं है।

वहीं, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मगंलवार रात तक सबकुछ ‘योजनानुसार’ चल रहा था लेकिन एक विधायक के गनमैन की गलती के कारण बीजेपी का ये कथित ‘ऑपरेशन लोटस’ फेल हो गया। एक विधायक के गनमैन ने दिल्ली रवाना होते समय एक फोन किया था और इसी फोन ने दिल्ली में विधायकों के जमा होने की खबर लीक हो गई। इसके बाद कांग्रेस ने अपनी सरकार बचाने के लिए पूरी ताकत झोंकते हुए समय रहते जीतू पटवारी और जयवर्धन को दिल्ली भेज दिया।

विधायकों के कांग्रेस के खेमे में लौटने के बाद फिलहाल कमलनाथ सरकार पर कोई खतरा नहीं दिख रहा है। बता दें कि मध्य प्रदेश विधानसभा में इस वक्त कुल 228 विधायक हैं। विधानसभा में कांग्रेस के 114 विधायक हैं, जबकि भाजपा के 107 विधायक हैं। वहीं, बहुजन समाज पार्टी के दो विधायक हैं जबकि समाजवादी पार्टी से एक और चार निर्दलीय विधायक हैं। फिलहाल, जादुई आंकड़ा 115 का है। इस वक्त कांग्रेस को 121 विधायकों का समर्थन हासिल है।

Related Articles

पुलिस महिलाओं और बच्चों से कैसे करें व्यवहार, परीक्षा आयोजित

खंडवा : पुलिस में भर्ती होने के लिए परीक्षा पास करते तो आप ने देखा होगा लेकिन पुलिस रहते हुए में अपने कर्तयव को...

नरेश टिकैत से मिलने पहुंचे केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में केंद्रीय पशुपालन मंत्री डॉक्टर संजीव बालियान ने सिसौली पहुंचकर भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत का हाल जाना।...

Goa Election 2022: ,केजरीवाल बोले- पीएम मोदी ने खुद हमें ईमानदारी का सर्टिफिकेट दिया है, गोवा में भी मुफ्त योजनाओं का किया वादा

नई दिल्लीः गोवा के लिए आम आदमी पार्टी ने बड़ा चुनावी वादा किया है। चुनाव प्रचार करने के लिए गोवा पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री...

अमेरिका: आतंकी की गिरफ्त से छुड़ाए गए सभी अमेरिकी नागरिक, 10 घंटे तक चला ऑपरेशन

टेक्सास : अमेरिका के टेक्सास में अमेरिकी नागरिकों को बंधक बनाए जाने के मामले में सुरक्षाबलों को बड़ी कामियाबी मिली है। राज्यपाल ग्रेस एबॉट...

Haryana: मंत्री विज ने दी जानकारी, बिना वैक्सीन लगवाए 15 से 18 वर्ष के बच्चों को स्कूल में नहीं मिलेगी एंट्री

हरियाणा : हरियाणा में 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के लिए बिना कोरोना रोधी टीका लगवाए स्कूलों में प्रवेश करने की...

Corona Effect: मध्य प्रदेश में 12 वीं तक के स्कूल 31 जनवरी तक बंद

भोपाल: कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए मध्य प्रदेश में अब पहली से बारहवीं कक्षा तक के सरकारी-निजी सीबीएससी-आइएससी सहित सभी स्कूलों...

निजी अस्पताल के बायोगैस प्लांट से मिले मानव खोपड़ियां व नरकंकाल, आई निठारी कांड याद

मुंबई : महाराष्ट्र के वर्धा जिले से निठारी कांड जैसा मामला सामने आया है। यहां के एक प्राइवेट अस्पताल से मानव कंकाल और खोपड़ियां...

शिवराज सरकार झूठ परोसने में लगी है,16 साल से दे रहे झूठे आश्वासन – पूर्व मुख्यमंत्री

कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश में पंजीकृत बेरोजगार युवाओं का आंकड़ा 34 लाख के करीब पहुंच चुका है। अभी हाल ही में हमने प्रदेश...

खंडवा : GST टीम की छापेमार कार्रवाई, जीएसटी चोरी की आशंका

जीएसटी की जांच के लिए कमिश्नर जीएसटी इंदौर द्वारा संभागीय टीम को 2 दिन की जांच के अधिकार पावर दिए गए हैं इसके तहत...

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
124,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

पुलिस महिलाओं और बच्चों से कैसे करें व्यवहार, परीक्षा आयोजित

खंडवा : पुलिस में भर्ती होने के लिए परीक्षा पास करते तो आप ने देखा होगा लेकिन पुलिस रहते हुए में अपने कर्तयव को...

नरेश टिकैत से मिलने पहुंचे केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में केंद्रीय पशुपालन मंत्री डॉक्टर संजीव बालियान ने सिसौली पहुंचकर भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत का हाल जाना।...

Goa Election 2022: ,केजरीवाल बोले- पीएम मोदी ने खुद हमें ईमानदारी का सर्टिफिकेट दिया है, गोवा में भी मुफ्त योजनाओं का किया वादा

नई दिल्लीः गोवा के लिए आम आदमी पार्टी ने बड़ा चुनावी वादा किया है। चुनाव प्रचार करने के लिए गोवा पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री...

अमेरिका: आतंकी की गिरफ्त से छुड़ाए गए सभी अमेरिकी नागरिक, 10 घंटे तक चला ऑपरेशन

टेक्सास : अमेरिका के टेक्सास में अमेरिकी नागरिकों को बंधक बनाए जाने के मामले में सुरक्षाबलों को बड़ी कामियाबी मिली है। राज्यपाल ग्रेस एबॉट...

Haryana: मंत्री विज ने दी जानकारी, बिना वैक्सीन लगवाए 15 से 18 वर्ष के बच्चों को स्कूल में नहीं मिलेगी एंट्री

हरियाणा : हरियाणा में 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के लिए बिना कोरोना रोधी टीका लगवाए स्कूलों में प्रवेश करने की...