24.1 C
Indore
Tuesday, July 5, 2022

ओवैसी को रैली में हिंदू विरोधी बयान न देने की धमकी

uddhav-owaisiनई दिल्ली /मुंबई – जहां एक ओर महाराष्ट्र के विधानसभा चुनावों में उम्मीद मुताबिक सफलता मिलने के बाद एमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने देश के दूसरे हिस्सों में भी अपनी पैठ बनानी शुरू कर दी है। वहीं शिवसेना की ओर से ओवैसी को धमकी भी मिली है।

ये धमकी 4 फरवरी को पुणे में होने जा रही ओवैसी की रैली को लेकर है। दरअसल हिंदू विरोधी भाषणों के लिए ओवैसी सुर्खियों में रहे हैं। ऐसे में शिवसेना ने ओवैसी को अपनी रैली में हिंदू विरोधी बयान देने से मना किया है।

शिवसेना की ओर से कहा गया है कि अगर ओवैसी ऐसा कोई बयान देते हैं तो उनकी रैली में हंगामा कर दिया जाएगा। उनकी रैली नहीं होने दी जाएगी।

इस मुद्दे पर शिवसेना ने एक पत्र भी पुणे के पुलिस आयुक्त को लिखा है। जिसमें उन्होंने कहा है कि अगर ओवैसी की ओर से हिंदूओं केविरोध कोई बात कही गई तो उनकी रैली नहीं होने देंगे।

शिवसेना की ओर से उद्धव ठाकरे ने कार्यकर्ताओं को ये आदेश दिया है। बता दें कि ओवैसी महाराष्ट्र में मुस्लिमों को आरक्षण का मुद्दा उठाने के लिए ये रैली करने वाले हैं।

इधर, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की चेतावनी से सियासी गहमागहमी बढ़ गई है। इस बीच पुलिस प्रशासन भी सतर्क हो गया है।

इस पूरे विवाद के बीच खबर ये भी है कि ओवैसी को महाराष्ट्र में सफलता के बाद अब उनकी योजना दूसरे राज्यों में अपनी पैठ बनाने की है। इस कामयाबी के बाद उन्होंने उत्तर प्रदेश को चुना है।

रणनीति के मुताबिक संभावना है कि एमआईएम 2017 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में मैदान पर उतर सकते हैं। माना जा रहा है कि पार्टी प्रदेश में 100 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी।

इसके लिए ओवैसी उत्तर प्रदेश में अपने संगठन का विस्तार करने जा रहे हैं। आपको बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में पार्टी को दो सीटें आई थी।

एमआईएम की योजना उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के वोट बैंक में सेंध लगाने की है। इसके लिए हैदराबाद से सांसद और एमआईएम मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने खास योजना बनाई है।

पार्टी मुस्लिम बहुल इलाकों में अपने उम्मीदवार उतार सकती है। इसके लिए पार्टी ने जिन इलाकों को चुना है उस पर गौर करें तो मुजफ्फरनगर, लखनऊ, गाजियाबाद, मेरठ, बुलंदशहर, मुरादाबाद, रामपुर, गोरखपुर, महाराजगंज, आजमगढ़, कानपुर जैसे शहर हैं।

इसके साथ-साथ पार्टी यूपी के 44 जिलों में सदस्यता अभियान शुरू करने की योजना बना रही है। इसके लिए पार्टी सभी जिलों में 500 एक्टिव कार्यकर्ता बनाएगी।

इसके लिए पार्टी नुक्कड़ सभा के साथ-साथ जलसा और दूसरे कार्यक्रम करेगी। जिससे ज्यादा से ज्यादा कार्यकर्ताओं को पार्टी से जोड़ सके।

पार्टी की योजना पर गौर करें तो पार्टी के राष्ट्रीय ओवैसी यूपी के विभिन्न जिलों में रैली भी कर सकते हैं। योजना के मुताबिक 12 मार्च को बरेली में, 15 मार्च को इलाहाबाद और 22 मार्च को मुरादाबाद में ओवैसी की रैली आयोजित की जाएगी।

इसमें मुख्य लक्ष्य मुस्लिम समुदाय से जुड़े उठाने के साथ उन्हें पार्टी से जोड़ने की है। इसके साथ-साथ पार्टी की निगाहें दलित वोट-बैंक पर भी टिकी हुई है।

Related Articles

वायरल हुआ जीतू पटवारी का वीडियो, देखें कर रहे थे ये काम … !

खंडवा (विजय तीर्थानि ) : मध्यप्रदेश में निकाय चुनाव अपने चरम पर हैं। ऐसे में नेता अपने वोटरों को लुभाने के लिए कुछ भी...

महाराष्ट्र में सरकार बनाने की और BJP , केंद्रीय मंत्री दानवे बोले- विपक्ष में हम बस 2-3 दिन और

मुंबई : महाराष्ट्र में जारी सियासी संग्राम के बीच BJP ने महाराष्ट्र में सरकार बनाने के संकेत दिए हैं। केंद्र सरकार के मंत्री रावसाहेब...

Maharashtra Political Crisis राज ठाकरे की मनसे में शामिल हो सकता है शिंदे गुट !

मुंबई : महाराष्ट्र में पिछले एक सप्ताह से चल रहे सियासी ड्रामे के बीच नए समीकरण बनते दिख रहे हैं। अब खबर है कि...

द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रपति पद के लिए नॉमिनेशन भरा, देश को मिल सकता है पहला आदिवासी प्रेजिडेंट

नई दिल्लीः झारखंड की पूर्व राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने आज NDA की ओर से राष्ट्रपति पद के लिए अपना नामांकन दाखिल कर दिया है।...

तो क्या बंद होने वाली हैं केंद्र सरकार की मुफ्त राशन वितरण वाली योजना ?

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों में भाजपा की जीत का एक बड़ा कारण राज्य में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY) के...

Maharashtra Political Crisis : मुंबई आकर बात करें तो छोड़ देंगे एमवीए : संजय राउत

मुंबई : महाराष्ट्र में महाविकास अघाड़ी सरकार पर गहराए राजनीतिक संकट के बीच शिवसेना नेता संजय राउत ने गुरुवार को बड़ा बयान दिया है।...

Maharashtra Political Crisis : शिवसेना की मीटिंग में पहुंचे 12 विधायक, एनसीपी ने बुलाई अहम बैठक

मुंबई : महाराष्ट्र के राजनीतिक संग्राम के बीच शिवसेना में बगावत बढ़ती जा रही है। बता दें कि शिवसेना के नेता एकनाथ शिंदे की...

खरगोन में जिला प्रशासन की बड़ी कार्रवाई, लाखों रुपये का तेल जप्त

खरगोन : मध्यप्रदेश के खरगोन में जिला प्रशासन की टीम ने कार्रवाई करते हुए एक व्यपारिक प्रतिष्ठान से लाखों रुपए कीमत का तेल जब्त...

सिर्फ नोटिस देकर चलाया गया जावेद के घर पर बुलडोजर, हाईकोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस बोले- यह पूरी तरह गैरकानूनी

लखनऊ : रविवार को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कथित तौर पर प्रयागराज हिंसा के मास्टरमाइंड मोहम्मद जावेद उर्फ जावेद पंप का घर...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
126,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

वायरल हुआ जीतू पटवारी का वीडियो, देखें कर रहे थे ये काम … !

खंडवा (विजय तीर्थानि ) : मध्यप्रदेश में निकाय चुनाव अपने चरम पर हैं। ऐसे में नेता अपने वोटरों को लुभाने के लिए कुछ भी...

महाराष्ट्र में सरकार बनाने की और BJP , केंद्रीय मंत्री दानवे बोले- विपक्ष में हम बस 2-3 दिन और

मुंबई : महाराष्ट्र में जारी सियासी संग्राम के बीच BJP ने महाराष्ट्र में सरकार बनाने के संकेत दिए हैं। केंद्र सरकार के मंत्री रावसाहेब...

Maharashtra Political Crisis राज ठाकरे की मनसे में शामिल हो सकता है शिंदे गुट !

मुंबई : महाराष्ट्र में पिछले एक सप्ताह से चल रहे सियासी ड्रामे के बीच नए समीकरण बनते दिख रहे हैं। अब खबर है कि...

द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रपति पद के लिए नॉमिनेशन भरा, देश को मिल सकता है पहला आदिवासी प्रेजिडेंट

नई दिल्लीः झारखंड की पूर्व राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने आज NDA की ओर से राष्ट्रपति पद के लिए अपना नामांकन दाखिल कर दिया है।...

तो क्या बंद होने वाली हैं केंद्र सरकार की मुफ्त राशन वितरण वाली योजना ?

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों में भाजपा की जीत का एक बड़ा कारण राज्य में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY) के...