24.1 C
Indore
Friday, December 2, 2022

गुर्दे की पथरी से बचने के लिए तरल पदार्थों का सेवन करे

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) का कहना है कि 13 प्रतिशत पुरुषों और सात प्रतिशत महिलाओं में गुर्दे की पथरी की समस्या पाई जाती है। आईएमए के अनुसार, पूरे दिन में तरल पदार्थो का सेवन बढ़ाने से गुर्दे की पथरी के बार-बार होने का जोखिम आधा रह जाता है और इसका कोई दुष्प्रभाव भी नहीं होता।

मूत्र के अम्लीय होने से बनती है पथरी
आईएमए के अध्यक्ष डॉ. के. के. अग्रवाल ने कहा, “शरीर में पानी की कमी गुर्दे की पथरी का मुख्य कारण है. यूरिक एसिड (मूत्र का एक घटक) पतला करने के लिए पर्याप्त पानी चाहिए होता है और ऐसा न होने पर मूत्र अधिक अम्लीय बन जाता है. यह अम्लीय गुर्दे की पथरी बनने का कारण होता है. गुर्दे की पथरी गोल्फ की एक गेंद के रूप में बड़ी हो सकती है. यह एक क्रिस्टल जैसी संरचना होती है ।

उन्होंने कहा, “कुछ मामलों में ये इतने छोटे हो सकते हैं कि मूत्र के साथ बाहर निकल जाते हैं और व्यक्ति का इस ओर ध्यान भी नहीं जाता. हालांकि, इस प्रक्रिया में अत्यधिक दर्द हो सकता है. अगर गुर्दे की पथरी शरीर के अंदर रहती है, तो वे अन्य जटिलताएं पैदा कर सकती है, जैसे मूत्र की रुकावट ।

गुर्दे की पथरी के लक्षण
डॉ. अग्रवाल ने कहा, “गुर्दे की पथरी के लक्षण तब शुरू होते हैं जब वे मूत्रवाहिनी की ओर जाते हैं. इसके सामान्य लक्षणों में मूत्र नली के आसपास गंभीर दर्द, मूत्र में रक्त, उल्टी और मितली, मूत्राशय में सफेद रक्त कोशिकाओं या मवाद का होना, मूत्र की मात्रा में कमी, मूत्र करते समय जलन, बार-बार मूत्र की इच्छा होना और बुखार और ठंड लगना प्रमुख हैं ।

आईएनए अध्यक्ष ने बताया, “कुछ दवाएं गुर्दे की पथरी के जोखिम को बढ़ा सकती हैं. विटामिन-डी और कैल्शियम की खुराक लंबे समय तक लेने पर कैल्शियम का स्तर बढ़ जाता है. गुर्दे की पथरी के लिए यह भी एक कारक हो सकता है. प्रोटीन और सोडियम अधिक और कैल्शियम का कम सेवन भी इसका एक कारक हो सकता है.” उन्होंने कहा, “एक जगह बैठे रहने और मोटापे के अलावा उच्च रक्तचाप और कैल्शियम का शरीर में अवशोषण कम होने से भी पथरी हो सकती है ।

पथरी को रोकने के लिए उपाय
गुर्दे की पथरी से बचने का एक अच्छा तरीका है कि तरल पदार्थो का अधिक सेवन किया जाए. कम पानी पीने से पथरी हो सकती है ।
आहार में सोडियम कम करें. मूत्र में लवण बढ़ने से कैल्शियम की मूत्र से रक्त में पुन: अवशोषण की प्रक्रिया धीमी होती जाती है और गुर्दे की पथरी हो सकती है ।
ऑक्सलेट वाले खाद्य पदार्थो को सीमित करें. आमतौर पर चॉकलेट, बीट्स, नट्स, पालक, स्ट्रॉबेरी, चाय और गेहूं की चोकर में ऑक्सलेट अधिक पाया जाता है ।
पशु प्रोटीन कम खाएं. पशु प्रोटीन में अम्लीय पदार्थ अधिक होते हैं और यूरिक एसिड में वृद्धि होती है. उच्च यूरिक एसिड से पथरी बन सकती है ।

Related Articles

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया पौध-रोपण

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के साथ श्री मोहित निरंजन ने स्मार्ट सिटी उद्यान में पीपल, सामिया केसिया और अशोक के पौधे लगाए। श्री...

जल जीवन मिशन की परियोजनाओं को जल्दी से पूर्ण करें : मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जल जीवन मिशन में स्वीकृति के लिए शेष रही परियोजनाओं को शीघ्र स्वीकृत कर ग्रामों...

पेसा एक्ट में दिये अपने अधिकारों के बारे में जाने ग्रामीण : मुख्यमंत्री श्री चौहान

मैं भाषण देने नहीं पेसा एक्ट पढ़ाने आया हूँ पेसा एक्ट किसी समाज के खिलाफ नहीं सामाजिक समरसता के साथ गठित हो ग्राम सभाएँ सेंधवा जनपद के...

राज्यपाल सुश्री उइके से राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के पूर्व अध्यक्ष श्री नंद कुमार साय ने की भेंट

राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके से आज राजभवन में राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के पूर्व अध्यक्ष श्री नंद कुमार साय ने सौजन्य मुलाकात की। श्री...

ऐसा कार्यक्रम हो कि प्रदेश में नर्मदापुरम संभाग उदाहरण बने: मुख्यमंत्री श्री चौहान

  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नर्मदापुरम संभाग के बैतूल में मुख्यमंत्री जन-सेवा अभियान के स्वीकृति पत्र वितरण के पहले कार्यक्रम...

मुख्यमंत्री ने पर्वतारोही सुश्री नैना सिंह धाकड़ को राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित होने पर दी बधाई एवं शुभकामनाएं मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ की पर्वतारोही...

पूर्ण हो रही गो-शालाओं में गो-वंश रखने का कार्य तेजी से हो: मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई गो-संवर्धन बोर्ड की बैठक मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पूर्ण हो रही गो-शालाओं को तेजी से...

विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत की अध्यक्षता में आज यहां विधानसभा के समिति कक्ष में कार्य मंत्रणा समिति की बैठक शुरू

बैठक में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल, नेता प्रतिपक्ष श्री नारायण चंदेल, संसदीय कार्य मंत्री श्री रविंद्र चौबे सहित समिति के सदस्य उपस्थित हैं.

December OTT Release: दिसंबर के पहले वीक में ओटीटी पर रिलीज होंगी  फिल्में और वेब सीरीज 

December OTT Release: दिसंबर के पहले वीक में ओटीटी पर रिलीज होंगी  फिल्में और वेब सीरीज दिसंबर के फर्स्ट वीक में कई फिल्में रिलीज हो...

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
130,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया पौध-रोपण

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के साथ श्री मोहित निरंजन ने स्मार्ट सिटी उद्यान में पीपल, सामिया केसिया और अशोक के पौधे लगाए। श्री...

जल जीवन मिशन की परियोजनाओं को जल्दी से पूर्ण करें : मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जल जीवन मिशन में स्वीकृति के लिए शेष रही परियोजनाओं को शीघ्र स्वीकृत कर ग्रामों...

पेसा एक्ट में दिये अपने अधिकारों के बारे में जाने ग्रामीण : मुख्यमंत्री श्री चौहान

मैं भाषण देने नहीं पेसा एक्ट पढ़ाने आया हूँ पेसा एक्ट किसी समाज के खिलाफ नहीं सामाजिक समरसता के साथ गठित हो ग्राम सभाएँ सेंधवा जनपद के...

राज्यपाल सुश्री उइके से राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के पूर्व अध्यक्ष श्री नंद कुमार साय ने की भेंट

राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके से आज राजभवन में राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के पूर्व अध्यक्ष श्री नंद कुमार साय ने सौजन्य मुलाकात की। श्री...

ऐसा कार्यक्रम हो कि प्रदेश में नर्मदापुरम संभाग उदाहरण बने: मुख्यमंत्री श्री चौहान

  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नर्मदापुरम संभाग के बैतूल में मुख्यमंत्री जन-सेवा अभियान के स्वीकृति पत्र वितरण के पहले कार्यक्रम...