22.2 C
Indore
Wednesday, August 17, 2022

चीनी उत्पाद खरीद आप कर रहे आतंकियों की मदद

made-in-chinaलखनऊ- पाकिस्तान में रह रहे जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख और पठानकोट जैसे आतंकी हमले का मास्टर माइंड मसूद अजहर पर आर्थिक दृष्टि से प्रतिबंध करने के लिए भारत ने संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद में प्रस्ताव रखा था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों से अमरीका जैसा देख भी प्रतिबंध के पक्ष में था, लेकिन 31 मार्च को यूएनओ के स्थाई सदस्य का वीटो पावर काम में लेते हुए चीन ने हमारे प्रस्ताव को रद्द करवा दिया। चीन के इस कृत्य से जाहिर है कि चीन पाकिस्तान में बैठे उन आतंकवादियों और संगठनों का मददगार है, जो भारत में पठानकोट जैसे हमले करते है।

इसे यू भी कहा जा सकता है कि जो आतंकी भारत में निर्दोष लोगों और सेना के जवानों को शहीद करते है उन्हें चीन का समर्थन है। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या भारतीय नागरिकों को अब चीन का सामान खरीदना चाहिए? आज दुनिया में चीन की जो आर्थिक स्थिति है उसके पीछे भारत का विशाल बाजार है। चीन ने हमारे दैनिक जीवन की वस्तुओं का भी उत्पाद कर बेचना शुरू कर दिया है। यानि चीन भारत को दो तरीकों से कमजोर कर रहा है। एक चीन के सामान की वजह से हमारे उद्योग बंद हो रहे है तो दूसरी ओर आतंकी हमलों से भारत बुरी तरह परेशान है। यदि भारतीय नागरिक चीन का सामान खरीदना बंद कर दें तो चीन को करारा जवाब दिया जा सकता है।

केंद्र सरकार के आलोचक यह कह सकते हैं कि नरेन्द्र मोदी चाहे तो चीन से आयात बंद कर दें। ऐसे आलोचकों को यह समझना होगा कि भारत में लोकतंत्र है और संविधान में यह लिखा है कि कोई भी व्यक्ति अपने धर्म के अनुरुप भारत में रह सकता है। यदि कोई व्यक्ति ‘भारत माता की जय’ न बोलना चाहे तो उसे देशभक्ति का सबक नहीं सिखाया जा सकता। इसके विपरीत चीन में न तो लोकतंत्र है और न कोई धर्म। चीन में वो ही व्यक्ति सांस ले सकता है जो सरकार की नीतियों का पालन करें। सरकार की नीतियों के खिलाफ एक शब्द भी कहने वाले को तत्काल मौत के घाट उतार दिया जाता है। चीन के नागरिकों का एक ही धर्म है देशभक्ति और देशभक्ति भी कम्युनिस्ट पार्टी वाली।

चीन में कोई चुनाव नहीं होते सिर्फ कम्युनिस्ट पार्टी के ही पदाधिकारियों के चुनाव होते हैं। चीन में यदि कोई व्यक्ति अपने धर्म की आड़ लेकर सरकार का विरोध करता है तो उसे चीन में सांस लेने की इजाजत नहीं है। हम समझ सकते हैं कि भारत और चीन में कितना फर्क है। ऐसे में चीन के खिलाफ भारतीय नागरिकों को ही पहल करनी होगी। इसे चीन की ताकत ही कहा जाएगा कि पाकिस्तान में बैठे किसी भी आतंकी और संगठन की इतनी हिम्मत नहीं कि वे चीन की ओर आंख उठाकर देख ले। आतंकियों को भी पता है कि ड्रेगन उनका कचूमर निकाल देगा जबकि भारत में तो आतंकवादियों के हमदर्द ही नहीं है बल्कि उनके खिलाफ कार्यवाही होने पर भी एतराज जताया जाता है जबकि सब जानते है कि आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता। आतंकवादी तो सभी धर्मो के लोगों को मौत के घाट उतारते है।
@शाश्वत तिवारी

Related Articles

खरगोन में मॉब लॉन्चिंग का वीडियो वायरल, अंडरवियर उतार के देखा युवक धर्म विशेष का तो नहीं

खरगोन: मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के औद्योगिक क्षेत्र में निमरानी में मॉब लॉन्चिंग का मामला सामने आया है। चार दिन पूर्व एक फैक्ट्री के...

संजय राउत की पत्नी पहुंचीं ED दफ्तर, आमने-सामने बैठाकर हो सकती है पूछताछ

मुंबई : पात्रा चॉल घोटाले में आरोपों का सामना कर रहे शिवसेना सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के दफ्तर...

MP के वन मंत्री का बयान: ‘किशोर कुमार अवार्ड’ के लिए फिल्मी सितारों को आना होगा खंडवा, मुंबई नहीं पहुंचाएगी शिवराज सरकार

खंडवा: मध्यप्रदेश के खंडवा में वन मंत्री ने प्रदेश सरकार द्वारा दिए जानेवाले राष्ट्रीय किशोर कुमार अलंकरण सम्मान को लेकर बड़ा बयान दिया है।...

खंडवा के गौरव दिवस के आयोजन में बजा “लड़की आंख मारे” हिन्दू संगठन और ABVP ने जताया विरोध, महिला अधिकारियों पर कार्यवाही की मांग

खंडवा : मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार निर्णय लिया है कि वह हर शहर का गौरव दिवस बनाएगी। 4 अगस्त को किशोर कुमार के जन्मदिन...

खंडवा के दंपत्ति ने खरगोन से डेढ़ साल के मासूम का किया अपहरण, पुलिस ने दबोचा

खरगोन : मध्यप्रदेश में खरगोन के निजी शारदा हॉस्पिटल परिसर से दिनदहाड़े डेढ़ साल के मासूम की घटना सामने आई हैं। गनीमत रही समय...

MP: खालिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, अवैध हथियारों की कर रहा था तस्करी

पुलिस अधीक्षक राहुल कुमार लोढ़ा ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी खालिस्थान मूमेंट से कनेक्टेट है इस तरह का इनपुट हमें जनवरी में मिला...

साध्वी ऋतंभरा के आश्रम स्टाफ पर 3 माह बाद आदिवासी बच्चियों की मौत के मामले में FIR

खंडवा - मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में ओम्कारेश्वर स्थित साध्वी ऋतंभरा के आश्रम स्टाफ के खिलाफ थाना मांधाता में मामला दर्ज किया है।...

नूपुर शर्मा के पक्ष में की थी पोस्ट, खण्डवा के युवक को पाकिस्तान के मोबाइल नंबर से मिली जान से मरने की धमकी

खंडवा : मध्यप्रदेश के खंडवा में नूपुर शर्मा के पक्ष में सोशल मिडिया पर पोस्ट डालने को लेकर पाकिस्तान से धमकी मिली हैं। राजस्थान...

मध्य प्रदेश में चुनाव कराना ही बंद कर देना चाहिए – पूर्व सीएम

राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने कहा निर्वाचन आयोग के असहायपन पर दया आती है। एमपी में चुनाव कराना ही बंद कर देना चाहिए। कलेक्टर...

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
127,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

खरगोन में मॉब लॉन्चिंग का वीडियो वायरल, अंडरवियर उतार के देखा युवक धर्म विशेष का तो नहीं

खरगोन: मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के औद्योगिक क्षेत्र में निमरानी में मॉब लॉन्चिंग का मामला सामने आया है। चार दिन पूर्व एक फैक्ट्री के...

संजय राउत की पत्नी पहुंचीं ED दफ्तर, आमने-सामने बैठाकर हो सकती है पूछताछ

मुंबई : पात्रा चॉल घोटाले में आरोपों का सामना कर रहे शिवसेना सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के दफ्तर...

MP के वन मंत्री का बयान: ‘किशोर कुमार अवार्ड’ के लिए फिल्मी सितारों को आना होगा खंडवा, मुंबई नहीं पहुंचाएगी शिवराज सरकार

खंडवा: मध्यप्रदेश के खंडवा में वन मंत्री ने प्रदेश सरकार द्वारा दिए जानेवाले राष्ट्रीय किशोर कुमार अलंकरण सम्मान को लेकर बड़ा बयान दिया है।...

खंडवा के गौरव दिवस के आयोजन में बजा “लड़की आंख मारे” हिन्दू संगठन और ABVP ने जताया विरोध, महिला अधिकारियों पर कार्यवाही की मांग

खंडवा : मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार निर्णय लिया है कि वह हर शहर का गौरव दिवस बनाएगी। 4 अगस्त को किशोर कुमार के जन्मदिन...

खंडवा के दंपत्ति ने खरगोन से डेढ़ साल के मासूम का किया अपहरण, पुलिस ने दबोचा

खरगोन : मध्यप्रदेश में खरगोन के निजी शारदा हॉस्पिटल परिसर से दिनदहाड़े डेढ़ साल के मासूम की घटना सामने आई हैं। गनीमत रही समय...