16.1 C
Indore
Friday, December 9, 2022

राज्‍यपाल की इफ्तार पार्टी से शिवराज ने बनाई दूरियां

Ram Naresh Yadavभोपाल – व्‍यापमं घोटाले में राज्‍यपाल रामनरेश यादव को हटाए जाने की याचिका पर गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार, राज्‍यपाल और मध्‍यप्रदेश सरकार को नोटिस जारी किया है। उधर गुरुवार को ही राज्‍यपाल ने भोपाल के राजभवन में इफ्तार पार्टी का आयोजन किया। इसमें सभी लोग उपस्थित हुए, लेकिन मध्‍यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। इससे माना जा रहा है कि मुख्‍यमंत्री और भाजपा ने राज्‍यपाल से दूरी बनाना शुरू कर दी है।

सुप्रीम कोर्ट के नोटिस के बाद व्यापमं घोटाले में फंसे मध्य प्रदेश के राज्यपाल रामनरेश यादव की कुर्सी जानी तय मानी जा रही है। उन्हें हटाने या न हटाने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट तो बाद में सुनवाई करेगा, लेकिन केंद्र सरकार ने फैसला कर लिया है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिलकर रामनरेश यादव के खिलाफ व्यापमं में संलिप्तता के आरोपों और सुप्रीम कोर्ट के ताजा नोटिस की जानकारी दी।

फिलहाल रामनरेश यादव पर खुद ही पद से इस्तीफा के लिए दबाव बनाया जा रहा है। संभवत: वह इस्तीफा दे भी दें। ऐसा नहीं हुआ तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विदेश दौरे से लौटने के बाद उन्हें पद से हटाने की प्रक्रिया शुरू की जा सकती है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश की सूचना मिलने के बाद ही गृहमंत्री ने अपने अधिकारियों के साथ सलाह-मशविरा शुरू कर दिया था।

इस सिलसिले में उन्होंने गृह सचिव एलसी गोयल व अन्य अधिकारियों से बात की। सूत्रों के अनुसार अधिकारियों का कहना था कि रामनरेश यादव को हटाने या उनका इस्तीफा लेने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचा है। बैठक के बाद राजनाथ सिंह ने राष्ट्रपति को पूरी स्थिति से अवगत कराया।

पुराने एफआईआर की जानकारी दी और इसका आधार तय हो गया कि राज्यपाल से इस्तीफा मांगा जाए। ध्यान रहे कि सुप्रीम कोर्ट के सामने रामनरेश यादव को पद से हटाने की मांग भी की गई थी, लेकिन कोर्ट ने उसे ठुकराते हुए कहा कि पहले राज्यपाल के खिलाफ आपराधिक मामला पर विचार होगा। इसकी सुनवाई बाद में होगी। बहरहाल, कोर्ट की सुनवाई से पहले ही रामनरेश यादव राज्यपाल के पद से हट सकते हैं।

रामनरेश यादव के बेटे शैलेष और उनके ओएसडी रहे धनराज यादव संविदा शिक्षक भर्ती घोटाले के आरोपी हैं। धनराज जेल में हैं और राज्यपाल के बेटे शैलेष की संदिग्‍ध हालत में लखनऊ में मौत हो चुकी है। राज्यपाल खुद भी इस मामले में 10वें नंबर के आरोपी थे। एक आरोपी वीरपाल ने राजभवन में तीन लाख रुपये देने का बयान एसटीएफ को दिया था। हाईकोर्ट ने गवर्नर की पिटीशन पर कहा कि वे जब तक पद पर हैं, उनकी जांच नहीं की जा सकती है।

 

Related Articles

शासकीय और निजी विश्वविद्यालय सामुदायिक सेवा के लिए हर वर्ष 5-5 गाँव गोद लें : राज्यपाल श्री पटेल

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने कहा है कि सभी निजी और शासकीय विश्वविद्यालय अधिक से अधिक रोजगारमूलक पाठ्यक्रम संचालित करें। पाठ्यक्रमों की उच्च गुणवत्ता...

शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन में जनता का संतोष हमारी प्राथमिकता- मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जन-कल्याणकारी योजनाओं और विकास गतिविधियों का संचालन पारदर्शिता के साथ समय-सीमा में किया जाए। निर्माण-कार्यों...

जनजातीय जीवन शैली का अभिन्न अंग है नृत्य-संगीत

मध्यप्रदेश के इन्द्रधनुषी जनजातीय संसार में जीवन अपनी सहज निश्छलता के साथ आदिम मुस्कान बिखेरता हुआ पहाड़ी झरने की तरह गतिमान है। मध्यप्रदेश सघन...

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया पौध-रोपण

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया पौध-रोपण मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने स्मार्ट सिटी उद्यान में आई फॉर ह्यूमेनिटी फाउंडेशन की सुश्री जूही राजपूत तथा...

ग्लोबल स्किल पार्क का निर्माण तेजी से पूरा करें: मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री ने किया पार्क का निरीक्षण सिंगापुर के सहयोग से निर्माणाधीन जीएसपी में 6 हजार युवाओं को दिया जाएगा प्रशिक्षण मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने...

पंचायत प्रतिनिधि ग्राम को समरस, स्वच्छ और पर्यावरण हितैषी बनाएँ : मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री ने सरपंचों से की अपेक्षा : योजनाओं के मैदानी क्रियान्वयन पर रखे नजर सरपंचों को मास्टर ट्रेनर के रूप में समझाए नियम और अधिकार ग्राम...

मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना से अब तक 35 लाख से ज्यादा लोगों का निःशुल्क इलाज

मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना से अब तक 35 लाख से ज्यादा लोगों का निःशुल्क इलाज मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने ऐसी परिकल्पना की थी...

निवेश के लिए आदर्श राज्य है मध्यप्रदेश – मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश भारत का सबसे तेजी से बढ़ता प्रदेश है। हम देश का दिल हैं। देश...

मुख्यमंत्री ने सरायपाली में किया 28 करोड़ 65 लाख रुपए के विकास कार्याें का भूमिपूजन एवं लोकार्पण

मुख्यमंत्री ने सरायपाली में किया 28 करोड़ 65 लाख रुपए के विकास कार्याें का भूमिपूजन एवं लोकार्पण मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल अपने प्रदेशव्यापी भेंट-मुलाकात कार्यक्रम...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
130,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

शासकीय और निजी विश्वविद्यालय सामुदायिक सेवा के लिए हर वर्ष 5-5 गाँव गोद लें : राज्यपाल श्री पटेल

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने कहा है कि सभी निजी और शासकीय विश्वविद्यालय अधिक से अधिक रोजगारमूलक पाठ्यक्रम संचालित करें। पाठ्यक्रमों की उच्च गुणवत्ता...

शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन में जनता का संतोष हमारी प्राथमिकता- मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जन-कल्याणकारी योजनाओं और विकास गतिविधियों का संचालन पारदर्शिता के साथ समय-सीमा में किया जाए। निर्माण-कार्यों...

जनजातीय जीवन शैली का अभिन्न अंग है नृत्य-संगीत

मध्यप्रदेश के इन्द्रधनुषी जनजातीय संसार में जीवन अपनी सहज निश्छलता के साथ आदिम मुस्कान बिखेरता हुआ पहाड़ी झरने की तरह गतिमान है। मध्यप्रदेश सघन...

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया पौध-रोपण

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया पौध-रोपण मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने स्मार्ट सिटी उद्यान में आई फॉर ह्यूमेनिटी फाउंडेशन की सुश्री जूही राजपूत तथा...

ग्लोबल स्किल पार्क का निर्माण तेजी से पूरा करें: मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री ने किया पार्क का निरीक्षण सिंगापुर के सहयोग से निर्माणाधीन जीएसपी में 6 हजार युवाओं को दिया जाएगा प्रशिक्षण मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने...