गांधीजी की मौत के लिए नेहरू सरकार ज़िम्मेदार – हिंदू महासभा नेत्री

ग्वालियर : नाथूराम गोडसे की पूजा के बाद मचा बवाल अभी थमा भी नहीं था कि हिंदू महासभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष राजश्री चौधरी ने महात्मा गांधी की हत्या के लिए तत्कालीन जवाहरलाल नेहरू की सरकार को जिम्‍मेदार बताकर नए विवाद को जन्म दे दिया है।

मंगलवार को राजश्री ग्वालियर दौरे पर पहुंचीं जहां उन्होंने पहले वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद दोपहर में उन्‍होंने हिंदू महासभा कार्यालय पहुंचकर नाथूराम गोडसे की पूजा और आरती की।

हिंदू महासभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष राजश्री चौधरी ने कहा कि गांधीजी देश के विभाजन के लिए जिम्मेदार हैं।

उन्होंने कहा कि वर्ष 1948 में गोली लगने के बाद महात्मा गांधी 40 मिनट तक तड़पते रहे, लेकिन कांग्रेस के लोग उनको अस्पताल लेकर नहीं गए। राजश्री ने आरोप लगाया कि तत्कालीन सरकार ने महात्मा गांधी का पीएम (पोस्‍टमॉर्टम) तक नहीं कराया।

इससे मामले की जांच सही तरीके से नहीं हो पाई है, लिहाजा गांधीजी की मौत के लिए तत्कालीन नेहरू सरकार जिम्मेदार है।

राजश्री ग्वालियर में हिंदू महासभा की बैठक में शामिल होने आई थीं। सुबह सबसे पहले उन्होंने महारानी लक्ष्मीबाई समाधि पर पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

राज्यश्री के मुताबिक रानी लक्ष्मीबाई उनके लिए आजादी की प्रतीक हैं। दोपहर में राज्यश्री दौलतगंज स्थित हिंदू महासभा कार्यालय पहुंचीं, जहां उन्होंने हिंदू महासभा कार्यकर्ताओं के साथ नाथूराम गोडसे की आरती की।