MP : कोविड सेंटर में कोरोना पॉजिटिव मरीज ने लगाई फांसी

देश में कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित जिलों में शामिल इंदौर में इस महामारी के सबसे व्यस्त अस्पताल में इन दिनों करीब 50 प्रतिशत नए संक्रमित सूंघने और स्वाद की क्षमता कम होने की शिकायत कर रहे हैं।

छतरपुर : कोरोना वायरस के कारण पुरे देश को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वही इस बीच मध्यप्रदेश के छतरपुर में बने एक COVID-19 सेंटर में कोरोना सकारात्मक मरीज ने फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया है।

यह मामला कोतवाली थाने के महोबा रोड़ पर स्थित शासकीय उत्कर्ष सीनियर छात्रावास में घटित हुई है।

मामले की जानकारी प्राप्त होने के पश्चात् पुलिस और प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची, और मृतक के शव को फंदे से उतारा गया।

घटना की सुचना देते हुए पुलिस ने अपने बयान में बताया कि मृतक तीन दिन पूर्व ही COVID-19 सेंटर में एडमिट हुआ था।

फिलहाल सुसाइड की वजहों का पता नहीं चल पाया है। पुलिस का कहना है कि पूरी घटना की जांच की जा रही है।

हालांकि ये घटना प्रशासन की लापरवाही दिखाती है। 25 जुलाई को इससे पूर्व छतरपुर के कंटेनमेंट एरिया में युवक ने बैरिकेड्स के पास लगे टेंट के पाइप पर लटककर सुसाइड कर लिया था।

वही अब पुरे मामले की जाँच में पुलिस जुट गई है। हालाँकि, अभी निश्चित तौर पर कुछ खुलासा नहीं हो पाया है।

वही इस बीच देश में कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित जिलों में शामिल इंदौर में इस महामारी के सबसे व्यस्त अस्पताल में इन दिनों करीब 50 प्रतिशत नए संक्रमित सूंघने और स्वाद की क्षमता कम होने की शिकायत कर रहे हैं।

श्री अरबिंदो इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (सैम्स) में छाती रोग विभाग के प्रमुख डॉ। रवि डोसी ने मंगलवार को बताया, ‘इन दिनों हमारे अस्पताल में कोविड-19 का इलाज करा रहे लगभग 50 प्रतिशत नए मरीजों का कहना है कि उनकी सूंघने और स्वाद की क्षमता में कमी आई है।’