20.2 C
Indore
Saturday, October 16, 2021

स्वदेश लौटे टीम इंडिया के रनबांकुरे, अगले सात दिन रहेंगे होम क्वारंटीन

नई दिल्ली : खिलाड़ियों के चोटिल होने के बावजूद भारत ने मंगलवार को ब्रिस्बेन में चौथे और अंतिम टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया को तीन विकेट से हराकर श्रृंखला 2-1 से जीती और इस तरह से बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी अपने पास बरकरार रखी। चोटों की सलिए फैंस घंटों इंतजार करते रहे। मुंबई एयरपोर्ट पर लैंड करने वाले भारतीय दल के पांच सदस्यों को बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन (BMC) की ओर से दिशा निर्देश जारी किए गए हैं।

कार्यवाहक कप्तान अजिंक्य रहाणे, टीम के हेड कोच रवि शास्त्री और युवा ओपनर पृथ्वी शॉ और शार्दुल ठाकुर को सात दिन घर पर क्वारंटीन रहने की सलाह दी गई  है। सभी की कोरोना जांच भी होगी। मुंबई पहुंचने पर मुंबई क्रिकेट संघ के अधिकारियों ने सभी का स्वागत किया। रहाणे ने टीम की जीत का जश्न मनाने के लिए केक भी काटा।

 Indian cricketers Ajinkya Rahane, Prithvi Shaw and Team India’s coach Ravi Shastri arrive in Mumbai from Australia after winning the Border–Gavaskar Trophy. pic.twitter.com/TrMzrRdg4F

— ANI (@ANI) January 21, 2021

अपनी बल्लेबाजी से गाबा में ऑस्ट्रेलिया का घमंड चकनाचूर करने वाले ऋषभ पंत दिल्ली एयरपोर्ट पर काफी खुश नजर आए। समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए पंत बोले, ‘ट्रॉफी पर कब्जा बरकरार रखने के बाद पूरी टीम में उत्साह है। सभी बेहद खुश है।’

Delhi | I am so happy that we retained the trophy. The whole team is very happy with the way we played the series: Indian cricketer Rishabh Pant on his return to India after winning the Border–Gavaskar Trophy in Australia pic.twitter.com/V87RiDt9oE

— ANI (@ANI) January 21, 2021

बीच सीरीज में टीम के साथ जुड़े रोहित शर्मा भी भारी सुरक्षा के साथ मुंबई अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से बाहर आते नजर आए। इस दौरान अपने पसंदीदा क्रिकेटर की एक झलक पाने के लिए फैंस बेताब थे।

Indian cricketer Rohit Sharma arrives in Mumbai after Team India won the Border–Gavaskar Trophy in Australia. pic.twitter.com/VhQemJdBVW

— ANI (@ANI) January 21, 2021

पहले नेट गेंदबाज के रूप में चुने गए, लेकिन बाद में एक दौरे के दौरान तीनों अंतरराष्ट्रीय प्रारूपों में पदार्पण करने वाले पहले क्रिकेटर बने तेज गेंदबाज टी नटराजन बेंगलुरू गए जहां से वह तमिलनाडु में अपने गांव सलेम जाएंगे। चेन्नई के रहने वाले अनुभवी स्पिनर रविचंद्रन अश्विन, युवा आलराउंडर वाशिंगटन सुंदर और गेंदबाजी कोच भरत अरुण अभी दुबई में हैं और उनके शुक्रवार की सुबह स्वदेश पहुंचने की संभावना है।

The last couple of months have been surreal. My time with #TeamIndia has been the best of my life. Playing Test cricket for India was a dream. We have overcome many hurdles on this tour to win this series. Overwhelmed with your support.🙏🇮🇳 #TeamIndia pic.twitter.com/0n41k8j5h6

— Natarajan (@Natarajan_91) January 19, 2021

याद हो कि अपने कई प्रमुख खिलाड़ियों के बिना गाबा में चौथे और अंतिम टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया को तीन विकेट से हराकर भारत ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी पर अपना कब्जा बरकरार रखा। भारत की इस जीत से कई कंगारू दिग्गज स्तब्ध हैं। भारत की हार की भविष्यवाणी करने वाले इस पूर्व खिलाड़ियों को समझ नहीं आ रहा कि एडिलेड में अपने न्यूनतम स्कोर 36 रन पर आउट होने के बाद हिंदुस्तानियों ने इतनी शानदार वापसी कैसे की।

Related Articles

छत्तीसगढ़ में हादसा: मूर्ति विसर्जन के लिए जा रहे लोगों को गाड़ी ने कुचला, एक की मौत, 16 घायल

जशपुर : छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में एक भीषण हादसे की जानकारी सामने आई है। यहां दुर्गा विसर्जन के लिए जा रहे कुछ लोगों...

सात नई रक्षा कंपनियों को पीएम मोदी ने किया राष्ट्र को समर्पित, भारत में बनेंगे पिस्टल से लेकर फाइटर प्लेन

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को सात नई रक्षा कंपनियों को राष्ट्र को समर्पित किया। उन्होंने कहा कि यह शुभ संकेत हैं...

दशहरे में रामचरित मानस की चौपाई के जरिए राहुल गांधी का मोदी सरकार पर निशाना, इस अंदाज में दी बधाई

नई दिल्लीः देशभर में दशहरा का त्यौहार मनाया जाएगा। इस अवसर पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने रामचरित मानस की चौपाई ट्वीट कर एक...

भागवत : ‘जिनकी मंदिरों में आस्था नहीं, उनपर भी खर्च हो रहा मंदिरों का धन’, 

नई दिल्ली: दशहरा के मौके पर संघ प्रमुख मोहन भागवत ने नागपुर स्थित संघ मुख्यालय में लोगों को संबोधित किया। मोहन भागवत ने ने...

वैचारिक भ्रम का शिकार:वरुण गांधी

भारतवर्ष में आपातकाल की घोषणा से पूर्व जब स्वर्गीय संजय गांधी अपनी मां प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी को राजनीति में सहयोग देने के मक़सद से...

जम्मू-कश्मीर: पुंछ में एक बार फिर शुरू हुई सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़

जम्मू: जम्मू संभाग में पुंछ जिले के मेंढर सब-डिवीजन के भाटादूड़ियां इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच एक बार फिर मुठभेड़ शुरू हो...

हरियाणा: कुंडली बॉर्डर पर युवक की हत्या, पिटाई के बाद हाथ काट बैरिकेड से लटकाया

चंडीगढ़ : हरियाणा के सोनीपत में कुंडली बॉर्डर पर युवक की बर्बर तरीके से हत्या कर दी गई। तीन कृषि कानूनों को रद्द कराने...

CM Kejriwal: उपराज्यपाल को लिखा पत्र- दिल्ली में बेहतर है कोरोना की स्थिति, मिलनी चाहिए छठ पूजा की अनुमति

नई दिल्लीः राजधानी दिल्ली में महापर्व छठ को लेकर असमंजस बरकरार है। दिल्ली सरकार ने इस बाबत गाइडलाइंस जारी करने के लिए केंद्र सरकार...

सावरकर हिंदुत्व को मानते थे, लेकिन वह हिंदूवादी नहीं थे – रक्षामंत्री

उन्होंने कहा कि हिंदुत्व को लेकर सावरकर की एक सोच थी जो भारत की भौगोलिक स्थिति और संस्कृति से जुड़ी थी। उनके लिए हिन्दू शब्द...

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
122,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

छत्तीसगढ़ में हादसा: मूर्ति विसर्जन के लिए जा रहे लोगों को गाड़ी ने कुचला, एक की मौत, 16 घायल

जशपुर : छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में एक भीषण हादसे की जानकारी सामने आई है। यहां दुर्गा विसर्जन के लिए जा रहे कुछ लोगों...

सात नई रक्षा कंपनियों को पीएम मोदी ने किया राष्ट्र को समर्पित, भारत में बनेंगे पिस्टल से लेकर फाइटर प्लेन

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को सात नई रक्षा कंपनियों को राष्ट्र को समर्पित किया। उन्होंने कहा कि यह शुभ संकेत हैं...

दशहरे में रामचरित मानस की चौपाई के जरिए राहुल गांधी का मोदी सरकार पर निशाना, इस अंदाज में दी बधाई

नई दिल्लीः देशभर में दशहरा का त्यौहार मनाया जाएगा। इस अवसर पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने रामचरित मानस की चौपाई ट्वीट कर एक...

भागवत : ‘जिनकी मंदिरों में आस्था नहीं, उनपर भी खर्च हो रहा मंदिरों का धन’, 

नई दिल्ली: दशहरा के मौके पर संघ प्रमुख मोहन भागवत ने नागपुर स्थित संघ मुख्यालय में लोगों को संबोधित किया। मोहन भागवत ने ने...

वैचारिक भ्रम का शिकार:वरुण गांधी

भारतवर्ष में आपातकाल की घोषणा से पूर्व जब स्वर्गीय संजय गांधी अपनी मां प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी को राजनीति में सहयोग देने के मक़सद से...