27.1 C
Indore
Tuesday, September 21, 2021

SC ST Act: सुप्रीम कोर्ट ने सरकार के संशोधन को दी मंजूरी, FIR दर्ज कर तुंरत होगी आरोपी की गिरफ्तारी

न्यायमूर्ति भट ने कहा कि यदि प्रथमदृष्टया एससी/एसटी अधिनियम के तहत कोई मामला नहीं बनता तो कोई अदालत प्राथमिकी को रद्द कर सकती है। सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला एससी,एसटी संशोधन अधिनियम 2018 को चुनौती देने वाली जनहित याचिकाओं पर आया है। ये याचिकाएं न्यायालय के 2018 के फैसले को निरस्त करने के लिए दाखिल की गई थीं।नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति संशोधन अधिनियम 2018 की संवैधानिक वैधता को सोमवार को बरकरार रखा। कोर्ट ने कहा कि कोई अदालत सिर्फ ऐसे ही मामलों पर अग्रिम जमानत दे सकती है जहां प्रथमदृष्टया कोई मामला नहीं बनता हो। न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा की अगुवाई वाली पीठ ने कहा कि अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज करने के लिए शुरुआती जांच की जरूरत नहीं है और इसके लिए वरिष्ठ पुलिस अधिकारी की मंजूरी की भी आवश्यकता नहीं है।

पीठ के अन्य सदस्य न्यायमूर्ति रवीन्द्र भट ने सहमति वाले एक निर्णय में कहा कि प्रत्येक नागरिक को सह नागरिकों के साथ समान बर्ताव करना होगा और बंधुत्व की अवधारणा को प्रोत्साहित करना होगा। न्यायमूर्ति भट ने कहा कि यदि प्रथमदृष्टया एससी/एसटी अधिनियम के तहत कोई मामला नहीं बनता तो कोई अदालत प्राथमिकी को रद्द कर सकती है। सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला एससी,एसटी संशोधन अधिनियम 2018 को चुनौती देने वाली जनहित याचिकाओं पर आया है। ये याचिकाएं न्यायालय के 2018 के फैसले को निरस्त करने के लिए दाखिल की गई थीं।

सुप्रीम कोर्ट ने 20 मार्च 2018 को एससी-एसटी ऐक्ट में एफआईआर से पहले प्रारंभिक जांच का प्रावधान किया था। वहीं गिरफ्तारी के प्रावधान को हल्का करते हुए अग्रिम जमानत की व्यवस्था भी की थी। सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा था कि इस मामले में मुकदमा दर्ज करने से पहले एसएसपी स्तर की अधिकारी की अनुमति जरूरी है। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा था कि यदि सरकारी कर्मचारी या अधिकारी के ऊपर इस एक्ट के तहत मामला बनता है तो उसे गिरफ्तार करने से पहले विभाग से अनुमति लेनी होगी।

केंद्र सरकार द्वारा एससी-एसटी एक्ट (संशोधन) में किए गए बदलाव के तहत गिरफ्तार किसी आरोपी को अग्रिम जमानत देने के प्रावधानों पर रोक है। इसके अलावा इस कानून में केंद्र ने प्रावधान किया था कि बिना जांच के आरोपी को गिरफ्तार किया जा सकता है और इस एक्ट में एफआईआर दर्ज करने के लिए किसी वरिष्ठ पुलिस अधिकारी की अनुमति जरूरी नहीं है।

एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद देशभर में विरोध प्रदर्शन हुए थे। खासतौर से दलित समुदाय के लोगों ने जगह-जगह बाजार बंद कराकर प्रदर्शन किए थे। जिसके बाद सरकार ने इस फैसले को बदलने का फैसला लिया था।

Related Articles

खंडवा में उपचुनाव से पहले मुख्यमंत्री ने की घोषणाओं की बारिश, छैगांवमाखन को तहसील का दर्जा!

खंडवा : एक महीने के अंदर दूसरी बार खंडवा आए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने पंधाना में आमसभा को संबोधित किया। स्थानीय कृषि उपज मंडी...

ऑस्‍ट्रेलिया के परमाणु पनडुब्‍बी लेने पर चीन आगबबूला, ग्‍लोबल टाइम्‍स ने बताया अमेरिकी ‘Dog’

पेइचिंग : चीनी नौसेना के बढ़ते खतरे को देखते हुए ऑस्‍ट्रेलिया के महाविनाशकारी परमाणु पनडुब्‍बी बनाने के ऐलान से ड्रैगन का सरकारी मीडिया आगबबूला...

पब में फैशन शो को हिंदू संगठन ने जबरन कराया बंद, अयोजक पर लव-जिहाद बढ़ाने का आरोप

इंदौर : इंदौर के विजयनगर में एक पब में फैशन शो का आयोजन किया गया था, लेकिन हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं के हंगामे के...

यूपी चुनाव : आम आदमी पार्टी का सियासी दाव, सरकार बनी तो 300 यूनिट फ्री बिजली देंगे

लखनऊ : दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने लखनऊ में प्रेस कांफ्रेन्स करते हुए बड़ा एलान किया है। सिसोदिया ने कहा कि अगर...

आगामी उपचुनाव व मोदी के जन्मदीन की तैयारियों को लेकर सनावद भाजपा की बैठक सम्पन्न

सनावद: राष्ट्रीय सह कोषाध्यक्ष व मंदसौर सांसद सुधीर गुप्ता ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित कर आगामी समय मे उपचुनाव की तैयारियों को लेकर चर्चा की...

माँग कर खाने वालांे व कचरा उठाने वालों को भी मिलेगा, मुफ्त खाद्यान्न

हरदा: राष्ट्रीय खाद्यान्न सुरक्षा अधिनियम के तहत प्राथमिकता श्रेणी माँग कर खाने वाले एवं कचरा बीनकर जीवन-यापन करने वाले व्यक्ति एवं उसके परिजन को...

खंडवा : बाइक चोरी के आरोपी की पुलिस हिरासत में संदिग्ध मौत

खंडवा : खरगोन के बिष्ठान के बाद खंडवा में भी पुलिस हिरासत में मौत का मामला सामने आया है। बाइक चोरी के आरोपी की...

लोजपा सांसद प्रिंस पासवान के खिलाफ दुष्कर्म मामले में केस दर्ज, एफआईआर में चिराग का भी नाम

नई दिल्लीः लोक जनशक्ति पार्टी के सांसद और चिराग पासवान के चचेरे भाई प्रिंस राज पासवान के खिलाफ दिल्ली के कनॉट प्लेस थाने में दुष्कर्म...

कांग्रेस छोड़ने वाले कर्नाटक के MLA का खुलासा, ”बीजेपी ज्‍वॉइन करने के लिए पैसे ऑफर किए थे ”

बेलगांव (कर्नाटक): भारतीय जनता पार्टी (BJP) के विधायक श्रीमंत बालासाहेब पाटिल (Shrimant Balasaheb Patil) ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस...

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
121,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

खंडवा में उपचुनाव से पहले मुख्यमंत्री ने की घोषणाओं की बारिश, छैगांवमाखन को तहसील का दर्जा!

खंडवा : एक महीने के अंदर दूसरी बार खंडवा आए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने पंधाना में आमसभा को संबोधित किया। स्थानीय कृषि उपज मंडी...

ऑस्‍ट्रेलिया के परमाणु पनडुब्‍बी लेने पर चीन आगबबूला, ग्‍लोबल टाइम्‍स ने बताया अमेरिकी ‘Dog’

पेइचिंग : चीनी नौसेना के बढ़ते खतरे को देखते हुए ऑस्‍ट्रेलिया के महाविनाशकारी परमाणु पनडुब्‍बी बनाने के ऐलान से ड्रैगन का सरकारी मीडिया आगबबूला...

पब में फैशन शो को हिंदू संगठन ने जबरन कराया बंद, अयोजक पर लव-जिहाद बढ़ाने का आरोप

इंदौर : इंदौर के विजयनगर में एक पब में फैशन शो का आयोजन किया गया था, लेकिन हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं के हंगामे के...

यूपी चुनाव : आम आदमी पार्टी का सियासी दाव, सरकार बनी तो 300 यूनिट फ्री बिजली देंगे

लखनऊ : दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने लखनऊ में प्रेस कांफ्रेन्स करते हुए बड़ा एलान किया है। सिसोदिया ने कहा कि अगर...

आगामी उपचुनाव व मोदी के जन्मदीन की तैयारियों को लेकर सनावद भाजपा की बैठक सम्पन्न

सनावद: राष्ट्रीय सह कोषाध्यक्ष व मंदसौर सांसद सुधीर गुप्ता ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित कर आगामी समय मे उपचुनाव की तैयारियों को लेकर चर्चा की...