29.1 C
Indore
Sunday, October 17, 2021

सेक्स के लिए पुरुष बाहर क्यूं मुंह मारते है?

हम सब इस बात को जानते है कि धोखा देना अपरिहार्य है, आदमी धोखा देता है और इसलिए औरत भी देती है क्यूंकि इस रियल वर्ल्ड में परफेक्ट रिलेशनशिप या परफेक्ट पाटर्नर जैसी कोई चीज नहीं है।

कई बार हम गलती करते है, हमें पछतावा होता है, हम अपने अपराध में रहते है, अपने साथी के साथ अपने रिश्ते को सुधारने की कोशिश करते है और फिर से इसी रास्ते पर चलकर पथभ्रष्ट ना होने की कोशिश करते है।

इस लेख में हम आपको वो पांच स्थितियां बताने जा रहे है जिसमें आकर आप अपने साथी को धोखा दे सकते है।

लेकिन ऐसी स्थिति सभी के साथ नहीं होती, आजकल ये कुछ लोगों के लिए बहुत सामान्य सी बात हो गई है कि वो शादीशुदा होने के बावजूद बाहर मनोरंजन के अवसर ढूंढते है, खासकर पुरूषों में।

कई बार प्रोस्टिटयूट के साथ निरंतर संबंध बनाना नियमित आदत बन जाती है, ये ऐसी आदत है जिससे पीछा छुड़ाना मुश्किल होता है, जिसका विरोध करना भी मुश्किल होता है।

ऐसे में सवाल ये उठता है कि पुरूष अपनी शादी और रिश्ते को खतरे में डालते हुए सेक्स वर्कर के पास क्यूं जाते है जब कि वो हर संभव कोशिश से अपने मौजूदा रिश्ते को बचाए रखना चाहता है।

एक पुरूष की जिंदगी में कुछ ऐसा चरण आता है जब वो अन्य समय की तुलना में फिजिकल इंटिमेसी के लिए रोमांच पाने की तलाश में अधिक होता है। ऐसी स्थिति ज्यादातर प्रेग्नेंसी के दौरान होती है।

अगर महिला किसी मेडिकल कारण से सेक्स से दूर रहे तो इस अवधि में उसके पति के लिए अपनी सेक्सुअल इच्छाओं को नियंत्रित करना मुश्किल हो जाता है। ऐसी स्थिति में कुछ लोग हस्तमैथुन का सहारा लेते है, लेकिन कुछ लोग के लिए ये संतोषजनक काम नहीं होता। ऐसी स्थिति में एक्स्ट्रामेरिटल अफेयर इच्छाओं को संतुष्ट करने के लिए एक स्वाभाविक प्रक्रिया नजर आती है।

लेकिन ऐसे अफेयर ऐसी ही आसानी से नहीं हो पाते और जब सेक्सुअल इच्छाएं पीक पर होती है तो आदमी सेक्स वर्कर के पास जाने का निर्णय करता है। वो इस सर्विस के लिए पैसे चुकाता है और बिना किसी समय के बाहर निकलता है।

यहां हम आपको वो कारण बताने जा रहे जब धोखेबाज व्यक्ति पकड़े जाने पर देते हैः

एडवेंचर की तलाश में

बहुत से पुरूषों में ये सहज इच्छा होती है कि वे बेड पर एडवेंचर्स हो या सेक्स की नीरसता को तोड़ने के लिए कुछ नया करें। इसी कारण वो मैरिटल सेक्स के कंफर्ट जोन से बाहर निकलने और सेक्स वर्कर के साथ फिजिकल इंटिमेसी तलाशना चाहता है। वे किसी के साथ अफेयर करके अपनी शादी और स्थिर रिश्ते को जोखिम में नहीं ड़ाल सकता। ऐसे में प्रोस्टीटयूट के पास जाना उसके लिए आसान होता है। वे जानते है कि एक बार काम हो जाने के बाद सेक्स वर्कर द्वारा बेवफाई, धोखाधड़ी या विश्वासघात का आरोप नहीं लगाया जाएगा। ये चीज पूरे एडवेंचर को आसान और संभवतः संतोषजनक बनाती है।

कुछ जरूरतों और कल्पनाओं को संतुष्ट करना

हम इस बात को स्वीकार करते है सेक्स में हर बार कुछ नयापन नीरसता को तोड़ने और शादी या रिश्ते को बचाने की कूंजी है। लेकिन जब कोई पुरूष महिला से अधिक आजमाइशी होता है और उसकी सेक्सुअल इच्छाएं चरम पर एवं उसकी सेक्स की जरूरतें अपने साथी की इच्छाओं से मैच नहीं होती, तो शारीरिक इच्छाओं की पूर्ति के लिए बाहर जाकर मुंह मारना एक सामान्य बात है। कुछ आदमी सेक्स में अलग-अलग पॉजिशन अपनाने की कोशिश करते है तो कुछ अपने साथी से ओरल सेक्स की डिमांड करते है, जिसे महिला स्वीकार नहीं सकती। और जब सेक्सुअल इच्छाएं पूरी नहीं होती तो अंत में रास्ता सेक्स वर्कर के पास जाने का ही दिखता है।

एक आदमी आमतौर ये सोचता है कि अगर वो इस सर्विस के लिए भुगतान कर रहा है तो उसकी डिमांड पूरी हो सकती है और उसके हुक्म का पालन करने से मना भी नहीं कर सकता। लेकिन अपने साथी के साथ वो इस तरह का व्यवहार नहीं कर सकता क्यूंकि अभी भी एक अनैच्छिक आचरण संहिता है जो बिस्तर पर बनाए रखने की जरूरत है। हालांकि कई बार ऐसी स्थितियां भी होती है जब पुरूष इस संहिता को तोड़ते है, लेकिन इस पर बाद में चर्चा करेंगे।

बदले की भावना से सेक्स

कई बार पुरूष अपने इस कृत्य को बदले की भावना से सेक्स करने की बात कह अपना औचित्य सिद्ध करते है। वे सेक्स वर्कर के पास इसलिए जाते है क्यूंकि वे बेड पर अपनी साथी से मिलनी वाली प्रतिक्रियाओं या सेक्स करने को लेकर मना करने से संतुष्ट नहीं होते इसलिए वे अपनी सेक्सुअल इच्छाएं पूरी करना चाहते है। सेक्स वर्कर के साथ वे अपनी पसंद पर चर्चा कर सकते है और उसे तभी पैसे देते है जब वो उसकी इच्छाओं को पूरी करने के लिए तैयार होती है। ये भावना उसे रिवेंज सेक्स के लिए तैयार करती है क्यूंकि ये उसके बढ़े हुए अहंकार को और बढ़ावा देती है और जब वो असल में अपनी कल्पनाओं के साथ खेलने में सक्षम हो जाता है तो वो अपने झूठे मर्दांनगी भरे व्यवहार को दोबारा पा लेता है।

पीयर प्रेशर

कई बार पीयर प्रेशर सर्कस वर्कर के पास जाने के लिए एक ट्रिगर के रूप में काम करता है। कई बार कुछ लड़के व्हाटसअप या अन्य ऑनलाइन प्लेटफार्म पर अपनी सेक्सुअल हरकतों का खुलासा करते है जो दूसरों को भी यही हथकंडा आजमाने के लिए प्रेरित करता है। एक बार जब उनको पता चलता है कि किसी रिश्ते या शादी से बाहर जाकर सेक्स करना आसान है, तो वे उसकी सम्मोहित होते जाते है।

आसान पहुंच

अधिकांश समय पुरूष नीरसता से बाहर निकलने के लिए एक सेक्स वर्कर के साथ असामान्य सेक्सुअल रिलेशन बनाने की कोशिश कर सकते है। जबकि इसके विपरित, डिजीटलाइजेशन के पहले के दिनों में आपको ऐसी जगहों पर जाने के लिए किसी पर भरोसा करना पड़ता था, लेकिन आज आप इससे जुड़ी सारी जानकारियां गूगल पर प्राप्त कर सकते है। ये आसान पहुंच की सुविधा भी एक कारण है जिसकी वजह से इन दिनों विश्वासघात या बेवफाई के मामले बढ़े है।

Related Articles

छत्तीसगढ़ में हादसा: मूर्ति विसर्जन के लिए जा रहे लोगों को गाड़ी ने कुचला, एक की मौत, 16 घायल

जशपुर : छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में एक भीषण हादसे की जानकारी सामने आई है। यहां दुर्गा विसर्जन के लिए जा रहे कुछ लोगों...

सात नई रक्षा कंपनियों को पीएम मोदी ने किया राष्ट्र को समर्पित, भारत में बनेंगे पिस्टल से लेकर फाइटर प्लेन

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को सात नई रक्षा कंपनियों को राष्ट्र को समर्पित किया। उन्होंने कहा कि यह शुभ संकेत हैं...

दशहरे में रामचरित मानस की चौपाई के जरिए राहुल गांधी का मोदी सरकार पर निशाना, इस अंदाज में दी बधाई

नई दिल्लीः देशभर में दशहरा का त्यौहार मनाया जाएगा। इस अवसर पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने रामचरित मानस की चौपाई ट्वीट कर एक...

भागवत : ‘जिनकी मंदिरों में आस्था नहीं, उनपर भी खर्च हो रहा मंदिरों का धन’, 

नई दिल्ली: दशहरा के मौके पर संघ प्रमुख मोहन भागवत ने नागपुर स्थित संघ मुख्यालय में लोगों को संबोधित किया। मोहन भागवत ने ने...

वैचारिक भ्रम का शिकार:वरुण गांधी

भारतवर्ष में आपातकाल की घोषणा से पूर्व जब स्वर्गीय संजय गांधी अपनी मां प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी को राजनीति में सहयोग देने के मक़सद से...

जम्मू-कश्मीर: पुंछ में एक बार फिर शुरू हुई सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़

जम्मू: जम्मू संभाग में पुंछ जिले के मेंढर सब-डिवीजन के भाटादूड़ियां इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच एक बार फिर मुठभेड़ शुरू हो...

हरियाणा: कुंडली बॉर्डर पर युवक की हत्या, पिटाई के बाद हाथ काट बैरिकेड से लटकाया

चंडीगढ़ : हरियाणा के सोनीपत में कुंडली बॉर्डर पर युवक की बर्बर तरीके से हत्या कर दी गई। तीन कृषि कानूनों को रद्द कराने...

CM Kejriwal: उपराज्यपाल को लिखा पत्र- दिल्ली में बेहतर है कोरोना की स्थिति, मिलनी चाहिए छठ पूजा की अनुमति

नई दिल्लीः राजधानी दिल्ली में महापर्व छठ को लेकर असमंजस बरकरार है। दिल्ली सरकार ने इस बाबत गाइडलाइंस जारी करने के लिए केंद्र सरकार...

सावरकर हिंदुत्व को मानते थे, लेकिन वह हिंदूवादी नहीं थे – रक्षामंत्री

उन्होंने कहा कि हिंदुत्व को लेकर सावरकर की एक सोच थी जो भारत की भौगोलिक स्थिति और संस्कृति से जुड़ी थी। उनके लिए हिन्दू शब्द...

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
122,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

छत्तीसगढ़ में हादसा: मूर्ति विसर्जन के लिए जा रहे लोगों को गाड़ी ने कुचला, एक की मौत, 16 घायल

जशपुर : छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में एक भीषण हादसे की जानकारी सामने आई है। यहां दुर्गा विसर्जन के लिए जा रहे कुछ लोगों...

सात नई रक्षा कंपनियों को पीएम मोदी ने किया राष्ट्र को समर्पित, भारत में बनेंगे पिस्टल से लेकर फाइटर प्लेन

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को सात नई रक्षा कंपनियों को राष्ट्र को समर्पित किया। उन्होंने कहा कि यह शुभ संकेत हैं...

दशहरे में रामचरित मानस की चौपाई के जरिए राहुल गांधी का मोदी सरकार पर निशाना, इस अंदाज में दी बधाई

नई दिल्लीः देशभर में दशहरा का त्यौहार मनाया जाएगा। इस अवसर पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने रामचरित मानस की चौपाई ट्वीट कर एक...

भागवत : ‘जिनकी मंदिरों में आस्था नहीं, उनपर भी खर्च हो रहा मंदिरों का धन’, 

नई दिल्ली: दशहरा के मौके पर संघ प्रमुख मोहन भागवत ने नागपुर स्थित संघ मुख्यालय में लोगों को संबोधित किया। मोहन भागवत ने ने...

वैचारिक भ्रम का शिकार:वरुण गांधी

भारतवर्ष में आपातकाल की घोषणा से पूर्व जब स्वर्गीय संजय गांधी अपनी मां प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी को राजनीति में सहयोग देने के मक़सद से...