8.1 C
Indore
Tuesday, January 25, 2022

एटा हादसे से भी सबक नहीं ले रहा प्रशासन !

अमेठी- आए दिन स्कूली नौनिहालों के साथ हो रहे सड़क और ट्रेन हादसों के बाद भी अमेठी में ओवरलोड स्कूली वाहनों पर लगाम नहीं लग पा रही है। अभी हाल ही में उत्तर प्रदेश के एटा में दर्दनाक हादसा हो गया था जिसमे स्कूल बस और ट्रक की टक्कर हो गयी थी। ये हादसा इतना भयानक था कि इसमें 25 बच्चो की मौत हो गयी। हादसे की तस्वीरें इतनी खौफनाक थी कि किसी का दिल भी दहल जाये।

वही इसके बाद भी अमेठी में नानिहालो के प्रति स्कूल प्रशासन से लेकर, अभिभावक और प्रशासन भी गंभीर नहीं है। अमेठी जनपद की सड़कों पर मानकों की धज्जियां उड़ाते हुए स्कूल वाहन चल रहे हैं। जबकि स्कूल वाहन के लिए केवल बसें ही अनुमन्य हैं, बावजूद इसके तीनपहिया टेंपो, मानवचालित रिक्शा,मैजिक वैन और तमाम छोटी-बड़ी गाड़ियां स्कूल वैन के नाम पर बच्चों को ढो रही हैं, वह भी क्षमता से अधिक। इन ओवरलोड स्कूल वाहनों के चलते नौनिहालों की जान हमेशा खतरे में बनी रहती है।

एटा जिले में हुए हादसे की गहराई में जायें तो पता चलता है कि इस हादसे के लिए कई स्तर की खामियां जिम्मेदार हैं। सबसे बड़ी खामी यह रही कि जो ट्रक स्कूल वैन से टकराया उसे उस रास्ते पर चलने की दिन में अनुमति ही नहीं थी अगली और सबसे आम खामी यह रही कि स्कूल वैन में क्षमता से ज्यादा संख्या में बच्चों को बिठाया गया था।

जरा-सी चूक या गड्ढा दे सकता है हादसे को अंजाम-
स्कूली बच्चों को क्षमता से अधिक भरकर ऑटो रिक्शा व अन्य वाहन शहर से गुजर रहे एनएच-57 सहित मुसाफिरखाना, वारिसगंज, जामो, जगदीशपुर, शुकुल बाजार की सड़कों पर सरपट दौड़ते देखे जा सकते हैं इस बीच मार्ग पर कोई गड्ढा न दिखने पर या चालक के जरा-सी चूक में नियंत्रण खो देने पर बड़ा हादसा हो सकता है सबसे ज्यादा ऑटो रिक्शा के पलटने की संभावना रहती है ।

मोटर व्हीकल एक्ट में ऑटो से स्कूली सफर नहीं मान्य-
बता दें कि मोटर व्हीकल एक्ट में ऑटो से स्कूली सफर मान्य नहीं है। एक्ट व कोर्ट की गाइडलाइन को पूरा करने वाली स्कूल बस व वैन में ही बच्चों को घर से स्कूल व स्कूल से घर ले जाया जा सकता हैं।

इनकी होती है जांच-
फिटनेस के नाम पर वाहन का इंजन, हार्न, आगे और पीछे की लाइट, फाग लाइट, रिफलेक्टर व इंडीकेटर, सीट, फस्र्ट एड बाक्स, सफाई, डेंट-पेंट तथा नंबर प्लेट आदि की जांच होती है।

कहने का तात्पर्य यह है कि एटा सड़क हादसे के पीछे जो खामियां थी, वह बहुत ही आम किस्म की थी इस घटना के पीछे वो सुरक्षा मानक जिम्मेदार थे जिनका पालन करना बुनियादी दायरे में आता है।

हर घटना के बाद प्रशासन नींद से जाग जाता है लेकिन सबसे बड़ा सवाल तो यह है कि अगर पहले ही प्रशासन मुस्तैदी दिखाएं तो शायद इस तरह की एटा जैसी बड़ी घटना से बचा जा सकता है, अब देखने वाली बात यह होगी कि अमेठी में भी कुछ दिनों तक या प्रशासन की तरफ से जांच की खानापूर्ति ही की जायेगी या फिर सचमुच इस पर अमल करके आगे भी वाहनों की जांच होगी ।
रिपोर्ट- @राम मिश्रा




Related Articles

राष्ट्रगान बज रहा था तब विराट कोहली च्यूंइगम चबा रहे थे, सोशल मीडिया पर बवाल

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान विराट कोहली एक बार फिर विवादों में घिरते हुए नजर आ रहे हैं। 33 वर्षीय विराट...

कैराना से लड़ेंगे चुनाव सपा-रालोद प्रत्याशी नाहिद हसन, नामांकन मंजूर

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की कैराना सीट से विधायक नाहिद हसन का नामांकन मंजूर कर लिया गया है। नाहिद हसन समाजवादी पार्टी-राष्ट्रीय लोकदल के कैराना...

कैप्टन अमरिंदर सिंह का बड़ा खुलासा: पाकिस्तान से हुई थी नवजोत सिद्धू को मंत्रिमंडल में लेने की सिफारिश

चंडीगढ़ : पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोमवार को पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू पर बड़ा आरोप लगाया। कैप्टन अमरिंदर सिंह...

देवी-देवताओं के खिलाफ टिप्पणी: कोर्ट में हाजिर नहीं हुए पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, चार फरवरी को होगी पेशी

लखनऊ : देवी-देवताओं के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में आरोपी पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य सोमवार को अदालत में हाजिर नहीं...

ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान साइबर ठग ने दिया लाखो की लॉटरी खुलने का लालच, नाबालिग छात्रा से ठगे सवा 2 लाख

खंडवा : अक्सर ऑनलाइन ठगी की खबर आपने सुनी होगी लेकिन अब इस ठगी का शिकार नाबालिग भी हो रहे है। ऑनलाइन पढ़ाई के...

नेताजी सुभाष चंद्र बोस का जेल कक्ष देखकर प्रेरणा ले सकेगी जनता : मुख्यमंत्री श्री चौहान

  भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस भारत माता के ऐसे सच्चे सपूत थे, जिन्होंने भारत माता...

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू हुए कोविड पॉजिटिव, एक हफ्ते के लिए खुद को किया आइसोलेट

नई दिल्लीः भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू कोरोना वायरस से संक्रमित हो गये हैं। उन्होंने कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए एक सप्ताह के...

यूपी: ट्रेन खड़ी कर सोने चला गया ड्राइवर, ढाई घंटे तक यात्री रहे परेशान

लखनऊ : बालामऊ पैसेंजर ट्रेन के चालक ने नींद पूरी न होने पर ट्रेन ले जाने से मना कर दिया। इसकी वजह से यात्रियों...

सर्वे: कपड़े का मास्क ज्यादा सुरक्षित नहीं , सरकार फ्री में दें N95 मास्क

भारत में मास्क की अनिवार्यता को समझने और इसके इस्तेमाल पर किए गए एक सर्वे में चौंकाने वाले नतीजे सामने आए हैं। सामने आया...

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
124,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

राष्ट्रगान बज रहा था तब विराट कोहली च्यूंइगम चबा रहे थे, सोशल मीडिया पर बवाल

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान विराट कोहली एक बार फिर विवादों में घिरते हुए नजर आ रहे हैं। 33 वर्षीय विराट...

कैराना से लड़ेंगे चुनाव सपा-रालोद प्रत्याशी नाहिद हसन, नामांकन मंजूर

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की कैराना सीट से विधायक नाहिद हसन का नामांकन मंजूर कर लिया गया है। नाहिद हसन समाजवादी पार्टी-राष्ट्रीय लोकदल के कैराना...

कैप्टन अमरिंदर सिंह का बड़ा खुलासा: पाकिस्तान से हुई थी नवजोत सिद्धू को मंत्रिमंडल में लेने की सिफारिश

चंडीगढ़ : पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोमवार को पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू पर बड़ा आरोप लगाया। कैप्टन अमरिंदर सिंह...

देवी-देवताओं के खिलाफ टिप्पणी: कोर्ट में हाजिर नहीं हुए पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, चार फरवरी को होगी पेशी

लखनऊ : देवी-देवताओं के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में आरोपी पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य सोमवार को अदालत में हाजिर नहीं...

ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान साइबर ठग ने दिया लाखो की लॉटरी खुलने का लालच, नाबालिग छात्रा से ठगे सवा 2 लाख

खंडवा : अक्सर ऑनलाइन ठगी की खबर आपने सुनी होगी लेकिन अब इस ठगी का शिकार नाबालिग भी हो रहे है। ऑनलाइन पढ़ाई के...