26.1 C
Indore
Saturday, August 20, 2022

सात साल में बीजेपी व‍िरोध‍ियों पर 570 छापे, यूपीए-2 में व‍िपक्ष‍ियों के यहां हुई थीं 85 रेड

demo pic

नई दिल्लीः उत्‍तर प्रदेश में चुनावी तैयारियों के बीच हाल ही में अखिलेश यादव के करीबियों पर इनकम टैक्‍स की रेड मारी गई। जिन लोगों पर रेड मारी गई उनके नाम हैं- सपा प्रवक्ता और राष्ट्रीय सचिव राजीव राय, ठेकेदार जगत सिंह, कारोबारी राहुल भसीन। इसके अलावा अखिलेश यादव के ओएसडी रहे जैनेंद्र और मनोज यादव के यहां भी इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने छापे मारे।

यूपी में 2022 में चुनाव हैं, ऐसे इस छापेमरी की टाइमिंग को लेकर सवाल उठ रहे हैं। इस बीच NDTV 24×7 ने Raid on BJP Rivals: Cleanup for vendetta? हेडलाइन के साथ एक प्रोग्राम किया, जिसमें चौंकाने वाले आंकड़े दिखाए गए हैं। इन आंकड़ों के हिसाब से यूपीए-2 सरकार से तुलना करने पर पता चलता है कि बीजेपी के राज में विरोधियों पर 340 प्रतिशत ज्‍यादा रेड मारी गई हैं। आंकड़ों को देखा जाए तो ये भी पता चलता है कि चुनावों के दौरान या जब भी विपक्षी पार्टी में बगावत की स्थिति आई तो अचानक से रेड की संख्‍या भी बढ़ती चली गई। आइए सबसे पहले डालते हैं आंकड़ों पर एक NDTV 24×7 ने पेश किए हैं।

-2014 में मोदी सरकार के केंद्र की सत्‍ता में आने के बाद से अब तक बीजेपी के विरोधियों पर कुल 570 रेड मारी गईं। इनमें 400 रेड राजनीतिक विरोधियों पर मारी गईं, जबकि बाकी अन्‍य आलोचकों पर। मतलब ऐसे लोग जो या तो बीजेपी के विरोधियों के मददगार हैं, या बीजेपी की खुलकर आलोचना करते हैं।

-2014 के बाद से अगर बीजेपी के गठबंधन सहयोगियों की बात करें तो उनके खिलाफ अब तक कुन 39 बार रेड मारी गई।

-अब अगर UPA-2 के कार्यकाल में मारी गई रेड के आंकड़े की बात करें, इस दौरान राजनीतिक विपक्षियों पर कुल 85 रेड मारी गईं।

-मतलब कुल 2014 से अब तक बीजेपी के कार्यकाल में कुल 570 और यूपीए-2 के कार्यकाल में कुल 85। इस हिसाब से देखें तो मोदीराज में विपक्षियों पर 340 प्रतिशत रेड ज्‍यादा मारी गईं।

– इसी आंकड़े को अगर साल के हिसाब से देखें तो यूपीए-2 के कार्यकाल में हर साल करीब 17 रेड विपक्षियों पर मारी गईं, जबकि एनडीए के 2014 के बाद से अब तक के कार्यकाल में हर साल करीब 75 रेड विपक्षियों पर मारी गईं।

-2014 के बाद से एनडीए के राज में कांग्रेस नेताओं के खिलाफ कुल 75 रेड मारी गईं।

-इसी प्रकार से टीएमसी नेताओं के खिलाफ 36 बार रेड मारी गई। आम आदमी पार्टी के नेताओं के खिलाफ 18 और पीडीपी नेताओं के खिलाफ 12 बार रेड मारी गई। एनसीपी के खिलाफ 8, डीएमके के खिलाफ 11, टीडीपी 12, नेशनल कॉन्‍फ्रेंस के खिलाफ 14, आरजेडी के खिलाफ 8, बीएसपी के खिलाफ 7 और जेडी (एस) के खिलाफ 6 बार रेड मारी गईं। कई और भी छोटे दल हैं, जिनके खिलाफ एक-एक रेड मारी गईं। इसके अलावा पत्रकार, मूर्वी स्‍टार, एक्टिविस्‍ट भी छापेमारी की जद में आ गए।

अब जरा रेड की टाइमिंग के बारे में बात करते हैं

-तमिलनाडु में 2021 चुनाव से 4 दिन पहले एमके स्‍टालिन की बेटी और उनके दामाद के खिलाफ टैक्‍स रेड मारी गई। इसके अलावा भी कई नेताओं पर रेड मारी गई।

-इसी प्रकार से 2021 बंगाल चुनाव से ऐन पहले और चुनाव के बीच में करीब 14 टीएमसी नेताओं के खिलाफ रेड मारी गई।

-2020 में जब राजस्‍थान कांग्रेस में सचिन पायलट ने बगावत की, ठीक उसी समय 6 कांग्रेस नेताओं के खिलाफ रेड मरी गई। जिन नेताओं पर छापेमारी की गई, उनमें अशोक गहलोत का बेटा, भाई और ओएसडी भी शामिल हैं।

-2019 में जब कर्नाटक में पॉलिटिकल क्राइसिस चल रहा था उस वक्‍त वहां पर भी 14 जेडी (एस) और कांग्रेस नेताओं के खिलाफ रेड मारी गई।

-गुजरात में राज्‍यसभा इलेक्‍शन से पहले भी रेड मारी गई। कर्नाटक के उस रिसॉर्ट में टैक्‍स रेड मारी गई थी जिसमें 42 कांग्रेस विधायक रुके हुए थे।

-अब यूपी में इलेक्‍शन हैं तो वहां पर भी रेड लगातार मारी जा रही हैं।

Related Articles

पुलिस के व्हाट्सएप पर आया धमकी भरा मैसेज, मुंबई उड़ाने की पूरी तैयारी है…

मुंबई: मुंबई को एक बार फिर से दहलाने की साजिश रची जा रही है। इस संबंध में मुंबई पुलिस के व्हाट्सएप पर एक धमकी...

मधयपदेश में गाय पर राजनीति लेकिन गोशालाओं पर नहीं है सरकार का ध्यान, संचालकों ने चेताया

खंडवा : मध्यप्रदेश में सरकारें गाय को लेकर सियासत करती रही हैं। चाहें वह भाजपा की शिवराज सरकार हो या कांग्रेस की कमलनाथ सरकार...

दर्द से तड़प रही थी पत्नी, कंधे पर लादकर अस्पताल ले गया पति, वीडियो हुआ वायरल

डिंडौरी : मध्यप्रदेश के डिंडौरी जिले में बीमार पत्नी को कंधे पर लादकर अस्पताल ले जाते लाचार पति का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल...

दो कृष्ण अष्टमी तिथियां क्यों हैं? जानें स्मार्त व वैष्णव जन्माष्टमी में अंतर

कृष्ण जन्माष्टमी भगवान कृष्ण के जन्म का उत्सव मनाने के लिए सबसे शुभ और महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक माना जाता है। यह हिंदुओं...

महिला उत्तेजक कपड़े पहने थी तो नहीं मानी जाएगी यौन उत्पीड़न की शिकायत : केरल हाईकोर्ट

कोझिकोड। केरल की एक अदालत ने यौन उत्पीड़न के एक मामले में लेखक और सामाजिक कार्यकर्ता सिविक चंद्रन को अग्रिम जमानत देते हुए कहा कि...

टीचर ने किया बीए की छात्रा से रेप, परीक्षा दिलाने ले गया था, पीड़िता नदी में कूदी

करौली : राजस्थान में एक बार फिर शर्मसार कर देने वाली वारदात सामने आई है। करौली जिले के हिंडौन सिटी इलाके में 20 साल...

जदयू ने खेला नया दांव, राज्यसभा के उपसभापति पद से इस्तीफा नहीं देंगे हरिवंश

पटना : बिहार में बदली सियासी बयार का असर राज्यसभा तक पहुंच गया है। जदयू के एनडीए से अलग होने के बाद कयास लगाए...

खरगोन में मॉब लॉन्चिंग का वीडियो वायरल, अंडरवियर उतार के देखा युवक धर्म विशेष का तो नहीं

खरगोन: मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के औद्योगिक क्षेत्र में निमरानी में मॉब लॉन्चिंग का मामला सामने आया है। चार दिन पूर्व एक फैक्ट्री के...

संजय राउत की पत्नी पहुंचीं ED दफ्तर, आमने-सामने बैठाकर हो सकती है पूछताछ

मुंबई : पात्रा चॉल घोटाले में आरोपों का सामना कर रहे शिवसेना सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के दफ्तर...

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
127,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

पुलिस के व्हाट्सएप पर आया धमकी भरा मैसेज, मुंबई उड़ाने की पूरी तैयारी है…

मुंबई: मुंबई को एक बार फिर से दहलाने की साजिश रची जा रही है। इस संबंध में मुंबई पुलिस के व्हाट्सएप पर एक धमकी...

मधयपदेश में गाय पर राजनीति लेकिन गोशालाओं पर नहीं है सरकार का ध्यान, संचालकों ने चेताया

खंडवा : मध्यप्रदेश में सरकारें गाय को लेकर सियासत करती रही हैं। चाहें वह भाजपा की शिवराज सरकार हो या कांग्रेस की कमलनाथ सरकार...

दर्द से तड़प रही थी पत्नी, कंधे पर लादकर अस्पताल ले गया पति, वीडियो हुआ वायरल

डिंडौरी : मध्यप्रदेश के डिंडौरी जिले में बीमार पत्नी को कंधे पर लादकर अस्पताल ले जाते लाचार पति का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल...

दो कृष्ण अष्टमी तिथियां क्यों हैं? जानें स्मार्त व वैष्णव जन्माष्टमी में अंतर

कृष्ण जन्माष्टमी भगवान कृष्ण के जन्म का उत्सव मनाने के लिए सबसे शुभ और महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक माना जाता है। यह हिंदुओं...

महिला उत्तेजक कपड़े पहने थी तो नहीं मानी जाएगी यौन उत्पीड़न की शिकायत : केरल हाईकोर्ट

कोझिकोड। केरल की एक अदालत ने यौन उत्पीड़न के एक मामले में लेखक और सामाजिक कार्यकर्ता सिविक चंद्रन को अग्रिम जमानत देते हुए कहा कि...