37.6 C
Indore
Sunday, May 22, 2022

नगरीय निकाय चुनाव : घरों में महिला नेताओं का प्रशिक्षण जारी

Women in Leadershipदमोह [TNN ] नगरीय निकायों के आम निर्वाचन की प्रक्रिया को लेकर चुनावी बिगुल बजने ही वाला है लेकिन राजनैतिक हल्कों में इसमें भाग लेने के लिये नेताओं ने अपनी कमर कसना प्रारंभ तो पूर्व से ही कर दिया था। वहीं आरक्षण की प्रक्रिया सम्पन्न होने के साथ ही कुछ के चेहरों पर प्रसन्नता तो कुछ के चेहरों पर निराशा के भाव देखे जा सकते हैं तो वहीं दूसरी ओर अनेक एैसे हैं जो राजनैतिक दांव पैचों के तहत इसके मध्य का रास्ता निकालने में लगे हुये देखे जा सकते हैं। इसी क्रम में अपने अपने राजनैतिक आकाओं के दरवाजे पर दस्तक देते हुये वंदनारत नेताओं के चेहरों के भावों को आसानी समझा जा सकता है। वह जो कभी जो कभी ठीक से देखते भी नहीं थे वह भी अब नम्रता स्वांग रचाते दिखने लगे हैं। आमजनमानस में जाकर यह दिखलाने का प्रयास किया जाने लगा है कि वह उनके सबसे ज्यादा हितेषी हैं वह उनको पहचानते हैं। हालांकि अचानक नेताओं के रूख में आये परिवर्तन को समझने वाले समझ भी रहे हैं तो कुछ को यह कहते सुना जा रहा है कि भैया इनको क्या हो गया है? ज्ञात हो कि मध्यप्रदेश में 288 नगरीय निकायों के निर्वाचन की प्रक्रिया प्रारंभ होने की घोषणा होने ही वाली है। प्राप्त जानकारी के अनुसार जहां चुनाव आयोग इसकी तैयारी पूर्ण कर चुका है तो वहीं प्रशासनिक अमला भी इसमें जुटा हुआ है।

महिलाओं को प्रशिक्षण-
उक्त नगरीय निकाय चुनावों के आरक्षण की प्रक्रिया के सम्पन्न होते ही नेताओं ने अनेक नेताओं ने अपनी पत्नियों,बहुओं,बेटियों को प्रशिक्षण देना प्रारंभ कर दिया है। उनको सामाजिक,राजनैतिक,पहनावे से लेकर उठने बैठने तक का प्रशिक्षण देने की इस समय जमकर चर्चा बनी हुई है। विदित हो कि इस बार प्रदेश की अनेक सीटों पर महिला उम्मीदवार अपनी किस्मत को आजमायेंगी जिसको घोषित आरक्षण में जानकारी भी दे गयी है। नेतागिरी की बारीक हुनरों को इनको लगातार बतलाया जा रहा है तो वहीं कुछ जगहों पर तो संपर्क अभियान भी प्रारंभ कर दिया गया है। इस समय उनके नाम भी उभर कर सामने आ रहे हैं जिनका राजनैतिक क्षेत्र में न तो कोई योगदान है तथा न ही वह कभी इसके लिये आगे आयी हैं। अनेक तो एैसे हैं जो राजनैतिक दलों की सक्रिय तो क्या प्राथमिक सदस्य भी नहीं है? सिर्फ यही है कि फलां की पत्नि,बहु या बेटी हैं हालांकि अनेकों के बारे में तो उनकी असहजता की जानकारी एवं चर्चा हो भी रही है परन्तु नेताओं के आगे वह भी बेबश नजर आ रही हैं तो कुछ उनकी राजनैतिक आकांक्षाओं को पूर्ण करने के लिये सहयोग के लिये आगे आ रही हैं। यह मामला कोई किसी एक राजनैतिक दल में नहीं अपितु प्रत्येक दलों की बतलायी जाती है?

राज्य निर्वाचन आयोग का आदेश-
प्राप्त जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश के 288 नगरीय निकायों के चुनाव में अपनी किस्मत आजमाने वाले नेताओं के लिये तनाव बढाने एवं राहत दोनो की बात है। आदेश के अनुसार उम्मीदवारों को नामांकन पत्र पूरा भरना पडेगा । जिसके अनुसार आपराधिक रिकॉर्ड सहित,चल-अचल संपत्ति,शैक्षणिक योग्यता संबंधी कोई भी कॉलम रिक्त छोडऩे पर उसका नामांकन निरस्त कर दिया जाएगा। इसी क्रम में अगर दूसरी ओर देखें तो दो से ज्यादा बच्चों के पिता भी चुनाव लड़ सकेंगे. लेकिन उम्मीदवार को निर्धारित कॉलम में बच्चों की संख्या देना अनिवार्य होगी ऐसे उम्मीदवारों को चुनाव से अयोग्य किए जाने का प्रावधान समाप्त निर्वाचन आयोग ने कर दिया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर राज्य निर्वाचन आयोग इस व्यवस्था को पहली बार नगरीय निकाय के चुनाव में लागू करने जा रहा है.जानकारी के अनुसार,उक्त व्यवस्था लोकसभा एवं विधानसभा चुनाव की तरह होगी.इस व्यवस्था में उम्मीदवारों के किसी कॉलम में जानकारी निरंक है तो कॉलम में निरंक लिखना जरूरी होगा. जानकारियां निर्धारित शुल्क के स्टांप पेपर में दो प्रतियों में जमा करना होगा.इनमें से एक प्रति रिटर्निंग ऑफिस के नोटिस बोर्ड पर चस्पा की जाएगी।

रिपोर्ट :- डा.लक्ष्मीनारायण वैष्णव

Related Articles

खंडवा: सगाई समारोह में भोजन के बाद करीब 300 लोग फूड पॉइजनिंग का शिकार, जिला अस्पताल और निजी हॉस्पिटल में किया एडमिट

खंडवा: खंडवा में एक सगाई समारोह के दौरान भोजन करने से लगभग 300 लोग फूड प्वाइजनिंग का शिकार हो गए। सभी मरीजों को निजी...

बड़वाह के दिव्यांग युवक के कायल हुए प्रधानमंत्री मोदी, ट्वीट कर कहीं यह बात

मध्य प्रदेश खरगोन जिले की बड़वाह विधानसभा क्षेत्र में रहने वाले दिव्यांग आयुष के दीवाने हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आयुष...

सरकार हमारे हिसाब से चलेगी, जिसे दिक्कत उसे बदल दिया जाएगा – CM शिवराज

सीएम ने कहा कि मध्यप्रदेश को लॉ एंड आर्डर के मामले में टॉप पर लाने के लिए काम करना होगा। महिला अपराध, बेटियों के...

जहां हिंदू अल्पसंख्यक होगा, वहां धर्मनिरपेक्षता संकट में होगी – उमा भारती

कांग्रेस के पूर्व मंत्री यादवेंद्र सिंह बुंदेला ने कहा है कि बीजेपी ने उन्हें दरकिनार कर दिया है। शराब जैसे मुद्दे को लेकर उनकी...

MP : मुसलमानों की हत्याओं पर भी फिल्म बनाएं, वे कीड़े नहीं इंसान है – IAS नियाज खान

द कश्मीर फाइल्स निर्माता-निर्देशक विवेक अग्निहोत्री का मध्य प्रदेश के प्रमुख शहर भोपाल- ग्वालियर के साथ उत्तर प्रदेश से भी खासा नाता है। विवेक...

MP : देश में फैलाया जा रहा है सांस्कृतिक आतंकवाद – शिक्षा मंत्री

सारंग ने सवाल उठाया कि हमारे तीज और त्यौहारों पर ही इस तरह की बात क्यों सामने आती है? सारंग ने आरोप लगाया कि...

भाजपा सांसद का बड़ा बयान – जिसे कश्मीर फाइल्स से नाराजगी वो कहीं और चले जाए

खंडवा : कश्मीरी पंडितो के दर्द को बयान करती फिल्म कश्मीर फाइल्स को लेकर सड़क से संसद तक बहस छिड़ी हुई हैं। ऐसे में...

पीएम मोदी ने दी पंजाब सीएम भगवंत मान को बधाई, कहा पंजाब के विकास के लिए साथ मिलकर काम करेंगे

नई दिल्ली:  पंजाब के नए सीएम भगवंत मान (CM Bhagwant Mann Oath) ने शहीद भगत सिंह के पैतृक गांव खटखड़कलां में मुख्यमंत्री पद की...

Bhagwant Mann Oath: भगत सिंह के गांव में भगवंत मान ने ली सीएम पद की शपथ

चंडीगढ़ : पंजाब और आम आदमी पार्टी के लिए 16 मार्च 2022, बुधवार का दिन बहुत अहम है। विधानसभा चुनावों में ऐतिहासिक जीत दर्ज...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
126,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

खंडवा: सगाई समारोह में भोजन के बाद करीब 300 लोग फूड पॉइजनिंग का शिकार, जिला अस्पताल और निजी हॉस्पिटल में किया एडमिट

खंडवा: खंडवा में एक सगाई समारोह के दौरान भोजन करने से लगभग 300 लोग फूड प्वाइजनिंग का शिकार हो गए। सभी मरीजों को निजी...

बड़वाह के दिव्यांग युवक के कायल हुए प्रधानमंत्री मोदी, ट्वीट कर कहीं यह बात

मध्य प्रदेश खरगोन जिले की बड़वाह विधानसभा क्षेत्र में रहने वाले दिव्यांग आयुष के दीवाने हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आयुष...

सरकार हमारे हिसाब से चलेगी, जिसे दिक्कत उसे बदल दिया जाएगा – CM शिवराज

सीएम ने कहा कि मध्यप्रदेश को लॉ एंड आर्डर के मामले में टॉप पर लाने के लिए काम करना होगा। महिला अपराध, बेटियों के...

जहां हिंदू अल्पसंख्यक होगा, वहां धर्मनिरपेक्षता संकट में होगी – उमा भारती

कांग्रेस के पूर्व मंत्री यादवेंद्र सिंह बुंदेला ने कहा है कि बीजेपी ने उन्हें दरकिनार कर दिया है। शराब जैसे मुद्दे को लेकर उनकी...

MP : मुसलमानों की हत्याओं पर भी फिल्म बनाएं, वे कीड़े नहीं इंसान है – IAS नियाज खान

द कश्मीर फाइल्स निर्माता-निर्देशक विवेक अग्निहोत्री का मध्य प्रदेश के प्रमुख शहर भोपाल- ग्वालियर के साथ उत्तर प्रदेश से भी खासा नाता है। विवेक...