21.8 C
Indore
Monday, December 6, 2021

देश में नफरत की राजनीति के बादल छाए हैं- सोनिया गांधी

भारत छोड़ो आंदोलन के 75 साल पूरे होने पर लोकसभा में चर्चा करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बिना नाम लिए आरएसएस पर हमला करते हुए कहा कि ऐसे संगठन शुरू से इस आंदोलन के खिलाफ था। इसके साथ ही मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि देश में फिलहाल बहस करने की स्पेस काफी कम हो गई है। लोग डर और भय के माहौल में जी रहे हैं।

लोकसभा में चर्चा की शुरुआत करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश के स्वतंत्रता आंदोलन में 9 अगस्त का एक महत्वपूर्ण स्थान है। सभी प्रमुख नेता जेल चले गए थे। अंग्रेजों ने इस आंदोलन की विशालता के बारे में नहीं सोचा था।

1947 की आजादी में भारत छोड़ो आंदोलन का प्रमुख योगदान है।
1857 से शुरू हुआ आजादी का बिगुल 1942 में जाकर के पूरा हुआ था।
9 अगस्त को इसलिए चुना गया था क्योंकि इसी दिन काकोरी कांड हुआ था।
जयप्रकाश नारायण, लोहिया ने इस आंदोलन का नेतृत्व किया था। क्योंकि सभी बड़े नेताओं को अंग्रेजों ने नजरबंद किया था।
जनता ने गांधी द्वारा दिए गए करो या मरो के नारे को बिलकुल अपना लिया था।
भारत के आजाद होने के साथ ही ब्रिटेन का पूरी दुनिया से औपनिवेशवाद खत्म हो गया था।
1942 में देश का हर आदमी नेता बन गया था।
भारत के लिए इतने सालों में अवसर काफी बढ़ गए हैं।
मिलकर काम हो तो गांधी का सपना पूरा होगा।
हम कई समस्याओं के खिलाफ काफी अच्छे से काम कर सकते हैं।
हम ईमानदारी का संकल्प करके देश को आगे ले जा सकते हैं।
दल से बड़ा देश, राजनीति से बड़ी राष्ट्रनीति।
गांव छोड़कर लोग शहर की तरफ रुख कर रहे हैं।
हम मिलकर काम करेंगे तो सफलता मिलेगी।
महात्मा गांधी के ग्राम स्वराज का सपना भ्रष्टाचार की वजह से पीछे छूट गया है।
छोटी-छोटी बातों पर लोग हिंसक हो रहे हैं। ट्रैफिक जाम पर लोग लड़ लेते हैं।
जीएसटी किसी एक के लिए नहींं बल्कि पूरे देश के लिए कामयाबी की बात है।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि वो शुक्रगुजार हैं कि कांग्रेस द्वारा आयोजित इस आंदोलन में भाग लिया था, जिसकी नींव महात्मा गांधी, जवाहर लाल नेहरू और सरदार पटेल ने रखी थी।

करो या मरो के नारे से पूरे देश को उत्तेजित कर दिया था।
नेहरू ने अपना सबसे लंबा वक्त जेल में इस आंदोलन के दौरान बिताया।
कई लोग भूमिगत हो गए थे। सत्याग्रहियों को डराने के लिए महिलाओं को भी अंग्रेज सरकार ने नहीं बख्शा था।
आंदोलन के दौरान कई कांग्रेसी जेल में मर गए थे। महिलाओ ने भी इस आंदोलन में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया था।
बिना नाम लिए किया RSS पर हमला, कहा ऐसे संगठनों का आजादी की लड़ाई में कोई योगदान नहीं रहा।
ये ऐसे संगठन थे जो इस आंदोलन के शुरू से खिलाफ थे।

इससे पहले पीएम मोदी ने ट्वीट करके कहा कि 75 साल पहले 1942 में भारत को अंग्रेजों से मुक्त कराना बड़ी जिम्मेदारी थी। लेकिन अब विषय काफी अलग हैं। आज हम शपथ लेते हैं कि भारत को 2022 तक गरीबी, गंदगी, भ्रष्टाचार, जातिवाद से मुक्ति दिलाएं।

मुंबई के आजाद मैदान से 1942 में महात्मा गांधी ने अंग्रेजों से भारत छोड़ने का ऐलान किया था। इस आंदोलन में 940 लोग मारे गए थे, 1630 घायल, 18 हजार नजरबंद और 60229 लोग गिरफ्तार हुए थे।

Related Articles

वरूण गांधी ने कहा- ये बेरोजगार युवा भी भारत मां के बेटे, बात मानना तो दूर, कोई इनकी बात सुनने तक को तैयार नहीं

लखनऊ : पांच चुनावी राज्यों में बेरोजगारी का मुद्दा भाजपा के गले की फांस बन सकता है। त्योहारी सीजन बीतने के साथ ही बेरोजगारी...

संसद टीवी: राज्यसभा से निलंबन के बाद नाराज प्रियंका चतुर्वेदी ने छोड़ा चैनल

नई दिल्लीः शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने रविवार को संसद टीवी छोड़ दी। यह कदम उन्होंने राज्यसभा से निलंबन के विरोध में उठाया। चतुर्वेदी...

पंजाब: गुरदासपुर में मिले ग्रेनेड व टिफिन बम डिफ्यूज, पठानकोट हमले से जुड़ रहे तार

गुरदासपुर: गुरदासपुर में मिले टिफिन बम और ग्रेनेड बरामदगी के तार पिछले दिनों पठानकोट के आर्मी क्षेत्र त्रिवेणी द्वार के पास ग्रेनेड हमले से...

 गोवा में भी केजरीवाल का पंजाबी दांव: 18 साल से ऊपर की हर महिला को देंगे एक हजार रुपये

पणजी : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को गोवा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि यहां उनकी सरकार बनने...

UP : गजनी और गौरी जैसे रहे हैं पिछली सरकारों के शासन – भाजपा प्रदेश अध्यक्ष

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव ने कहा कि रामलला व बाबा विश्वनाथ के दरबार में पापों के लिए अखिलेश यादव को देश व प्रदेश...

American Report: अगले साल की शुरुआत में यूक्रेन पर हमला कर सकता है रूस!

यूक्रेन और रूस की सीमा पर तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है। यूक्रेन ने शुक्रवार को दावा किया कि रूस ने सीमा पर 94...

सियासत : चन्नी ने साधा निशाना – कौन है केजरीवाल, कहां से आया, पंजाब पर कब्जा करना चाहता है

चंडीगढ़ : पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने शनिवार को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर फिर निशाना साधा। एक निजी चैनल के...

केंद्र के पास किसानों की मौत का आंकड़ा नहीं, फिर PM मोदी माफी किससे मांग रहे? – राहुल गांधी

राहुल ने कहा, सरकार के लिए मुआवजा राशि कोई बड़ी रकम नहीं है। ये बिल्कुल कोरोना की तरह का मामला है जिसमें कई लोगों...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले- डिजिटल बैंक आज वास्तविकता, फिनटेक को क्रांति में बदलने का समय

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को 'इन्फिनिटी फोरम' का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने संबोधित करते हुए कहा कि मुझे इस...

Stay Connected

5,577FansLike
13,774,980FollowersFollow
124,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

वरूण गांधी ने कहा- ये बेरोजगार युवा भी भारत मां के बेटे, बात मानना तो दूर, कोई इनकी बात सुनने तक को तैयार नहीं

लखनऊ : पांच चुनावी राज्यों में बेरोजगारी का मुद्दा भाजपा के गले की फांस बन सकता है। त्योहारी सीजन बीतने के साथ ही बेरोजगारी...

संसद टीवी: राज्यसभा से निलंबन के बाद नाराज प्रियंका चतुर्वेदी ने छोड़ा चैनल

नई दिल्लीः शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने रविवार को संसद टीवी छोड़ दी। यह कदम उन्होंने राज्यसभा से निलंबन के विरोध में उठाया। चतुर्वेदी...

पंजाब: गुरदासपुर में मिले ग्रेनेड व टिफिन बम डिफ्यूज, पठानकोट हमले से जुड़ रहे तार

गुरदासपुर: गुरदासपुर में मिले टिफिन बम और ग्रेनेड बरामदगी के तार पिछले दिनों पठानकोट के आर्मी क्षेत्र त्रिवेणी द्वार के पास ग्रेनेड हमले से...

 गोवा में भी केजरीवाल का पंजाबी दांव: 18 साल से ऊपर की हर महिला को देंगे एक हजार रुपये

पणजी : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को गोवा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि यहां उनकी सरकार बनने...

UP : गजनी और गौरी जैसे रहे हैं पिछली सरकारों के शासन – भाजपा प्रदेश अध्यक्ष

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव ने कहा कि रामलला व बाबा विश्वनाथ के दरबार में पापों के लिए अखिलेश यादव को देश व प्रदेश...